चित्रकूट में लॉकडाउन का पालन करवाने गई प्रशासनिक टीम पर हमला, कई घायल, वाहन भी क्षतिग्रस्‍त

सतना के चित्रकूट में खटीक समाज के लोगों ने अधिकारियों पर बड़ा हमला कर दिया. (सांकेतिक तस्वीर)

सतना के चित्रकूट में खटीक समाज के लोगों ने अधिकारियों पर बड़ा हमला कर दिया. (सांकेतिक तस्वीर)

Madhya Pradesh Satna Chitrakoot God City: लॉकडाउन में शराब बेच रहे खटीकों ने अधिकारियों पर हमला बोल दिया. आरोपियों ने पहले अधिकारियों को घेरा फिर पत्थर बरसाने शुरू कर दिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 12, 2021, 12:28 PM IST
  • Share this:
सतना. मध्‍य प्रदेश में एक तरफ कोरोना बेकाबू हुआ जा रहा है, तो वहीं दूसरी ओर लोग सुधरने का नाम ही नहीं ले रहे. इतना ही नहीं, लोग तो अब पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों पर भी हमला करने से नहीं चूक रहे. चौंकाने वाली यह घटना धर्म नगरी चित्रकूट में हुई है. यहां लॉकडाउन के दौरान दुकानें बंद कराने पहुंची टीम पर लोगों ने हमला कर दिया.

इस हमले में SDPO चित्रकूट की गाड़ी सहित कई वाहनों के कांच टूट गए, जबकि नगर परिषद प्रशासक, SDM पीएस त्रिपाठी, नायब तहसीलदार ऋषि नारायण सिंह और थाना प्रभारी संतोष तिवारी ने जैसे-तैसे अपनी जान बचाई. इस दौरान नगर पंचायत के पांच कर्मचारी घायल हो गए.

अधिकारियों को देखते ही कर दिया हमला

जानकारी के मुताबिक, टीम पर यह हमला वार्ड क्रमांक 6 के खटिकान मोहल्ले में हुआ. यहां कुछ लोग न तो लॉकडाउन का पालन कर रहे थे और न ही अवैध कामों को छोड़ रहे थे. इसकी शिकायत मिलने पर रविवार को टीम ने इस जगह दोपहर 3 बजे दबिश दी. अधिकारियों को देख वहां मौजूद लोगों ने उन्हें घेर लिया और ताबड़तोड़ पत्थरबाजी शुरू कर दी. इससे भगदड़ मच गई. अधिकारियों ने यहां-वहां छिपकर जान बचाई.
कुछ खेल रही पत्ते तो कुछ बेच रहे थे शराब

पुलिस ने बताया कि चित्रकूट नगर परिषद के वार्ड क्रमांक 6 के खटीकान मोहल्ले में शनिवार को गाइडलाइन का उल्लंघन किया गया. पुलिस और नगर परिषद की टीम ने दुकान बंद कराने का अनाउंसमेंट किया. इसके बाद भी अंडों की दुकानें खुली थीं. साथ ही लोग चोरी-छिपे शराब बिक्री कर रहे थे. दूसरी ओर खटीकों का समूह चौराहे पर भारी संख्या में ताश खेल रहे थे. ऐसे में अधिकारियों ने दुकान बंद करने के लिए कहा, लेकिन किसी ने नहीं सुनी.

हमले में ये हुए घायल



इसके बाद रविवार दोपहर एसडीएम, तहसीलदार, एसडीपीओ, थाना प्रभारी, नगर पंचायत सीएमओ समेत नपं के एक दर्जन कर्मचारियों के साथ खटीक मोहल्ले पहुंचे. यहां फिर से दुकान बंद करने की अपील की गई, लेकिन सभी ने अनसुना कर दिया. यही नहीं अधिकारियों को घेर कर पथराव शुरू कर दिया गया. नगर पंचायत के पांच कर्मचारी राधेश्याम पटेल, संजय यादव, अनुज पटेल, राजेश यादव, छोटू पटेल आदि घायल हो गए. अधिकारियों की गाड़ी के शीशे टूट गए. आनन-फानन में पुलिस ने थाने से बल बुलाया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज