500 किसानों के नाम पर फर्जी तरीके से निकाला लोन, कर्जमाफी योजना में हो गया माफ

चस्पा हुई सूची में करीब 100 किसान ऐसे हैं, जिनकी कई साल पहले मौत हो चुकी हैं. इसके अलावा 100 से ज्यादा ऐसे किसान हैं, जिन्होंने समिति से कभी कर्ज लिया ही नहीं था

Shivendra Singh Baghel | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 28, 2019, 1:00 PM IST
Shivendra Singh Baghel
Shivendra Singh Baghel | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 28, 2019, 1:00 PM IST
मध्यप्रदेश में कमल नाथ सरकार की कर्जमाफी के बाद लगातार भ्रष्टाचार और गबन के मामले सामने आ रहे हैं. सतना जिले के दुरेहा सहकारी बैंक में भी करोड़ों का भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है. हद तो तब हो गई जब 20 साल पहले मरे किसानों के नाम भी कर्जमाफी के तहत सामने आये. जानकारी के मुताबिक करीब तीन सौ से ज्यादा किसान ऐसे हैं, जिन्होंने बैंक से कर्ज लिया ही नहीं और वो कर्जदार हो गए हैं. मामले का खुलासा ऋण माफी की सूची जारी होने के बाद हुआ है.  किसानों ने जिला प्रशासन से शिकायत कर मामले की जांच की मांग की है.

मामला सतना के दुरेहा सेवा सहकारी बैंक का है जहां तीन करोड़ से ज्यादा का भ्रष्टाचार उजागर हुआ है. दरअसल, सरकार की किसान ऋण माफी योजना के तहत कर्जदार किसानों की सूची पंचायतों में चस्पा की गई. दुरेहा सोसायटी के तहत कर्जदार किसानों की सूची जब चस्पा की गई तो यहां हड़कंप मच गया. सोसायटी में करीब 1800 किसान कर्जदार हैं, जिसमें 500 किसानों के नाम पर फर्जी ऋण निकाला गया है.



सार्वजनिक रुप से चस्पा हुई सूची में करीब 100 किसान ऐसे हैं, जिनकी कई साल पहले मौत हो चुकी हैं. इसके अलावा 100 से ज्यादा ऐसे किसान हैं, जिन्होंने समिति से कभी कर्ज लिया ही नहीं था, जबकि कुछ ऐसे किसान है जिन्होंने 5000 रुपये का कर्ज लिया था जिसे एक लाख दिखाया गया है. मामला उजागर होने के बाद किसानों ने जिला मुख्यालय पहुंचकर प्रशासन से पुरे मामले की जांच कराने की मांग की.

इस मामले में संयुक्त कलेक्टर संस्कृति शर्मा का कहना है कि कर्जमाफी में जो भी भ्रष्टाचार का मामला सामने आ रहा है उसकी जांच की जाएगी और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें- कर्जमाफी के नाम पर खेल : किसान ने नहीं लिया कभी लोन, फिर भी 2 लाख हो गए माफ

ये भी पढ़ें- MPPSC का फाइनल रिजल्ट जारी, मंडला के हर्षल चौधरी ने किया टॉप
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार