राहुल बोले- 'लौहपुरुष' की मूर्ति पर ‘मेड इन चाइना’ लिखा होना सरदार पटेल का अपमान
Satna News in Hindi

राहुल बोले- 'लौहपुरुष' की मूर्ति पर ‘मेड इन चाइना’ लिखा होना सरदार पटेल का अपमान
चित्रकूट में रैली को संबोधित करते राहुल गांधी - PTI

चित्रकूट में आमसभा को सम्बोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अगर वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद कांग्रेस केंद्र में सत्ता में आई तो उनकी पार्टी GST कम करने के लिए इसमें बदलाव करेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 28, 2018, 8:19 AM IST
  • Share this:
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हुए गुरुवार को कहा कि गुजरात में सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा चीन की सहायता से बनवाई जा रही है. इस मूर्ति पर 'मेड इन चाइना' लिखा होगा, जो सरदार पटेल का अपमान है.

मध्य प्रदेश के विंध्य क्षेत्र के दो दिवसीय दौरे के पहले दिन राहुल गुरुवार को सतना के बीटी मैदान में एक आमसभा को संबोधित कर रहे थे. राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री कहते हैं कि हम सरदार पटेल की मूर्ति गुजरात में स्थापित करेंगे, लेकिन यह दुर्भाग्य की बात है कि लौहपुरुष की मूर्ति पर ‘मेड इन चाइना’ लिखा होगा, क्योंकि इसका निर्माण चीन कर रहा है. उन्होने कहा कि यह राष्ट्रभक्त, स्वंतत्रता संग्राम सेनानी और देश का निर्माण करने वाले सरदार बल्लभ भाई पटेल का अपमान है.

बता दें कि गुजरात में सरदार वल्लभ भाई पटेल की 182 मीटर ऊंची दुनिया की सबसे बड़ी मूर्ति बनकर तैयारी होने वाली है. गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए मोदी चाहते थे कि सरदार वल्लभ भाई पटेल की एक ऐसी प्रतिमा बने जो दुनिया में सबसे ऊंची हो. नरेंद्र मोदी का सबसे बड़ा सपना पूरा होने जा रहा है. 31 अक्टूबर को पीएम मोदी इस मूर्ति का अनावरण करेंगे.



इसके साथ ही राहुल गांधी ने एक बार फिर राफेल लड़ाकू विमान सौदे पर प्रधानमंत्री पर हमला बोलते हुए कहा कि 'देश का चौकीदार होने का दावा करने वाले मोदी विजय माल्या जैसे उद्योगपतियों के चौकीदार बन गए हैं.' राहुल ने आरोप लगाया, 'प्रधानमंत्री मोदी ने देश के लोगों के साथ धोखा किया है.



प्रधानमंत्री मोदी और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर कटाक्ष करते हुए राहुल ने कहा कि देश में दो मशीनें काम कर रही हैं. पहली 'मोदी मशीन जो झूठ की मशीन है' और दूसरी 'शिवराज की घोषणा मशीन' जो केवल घोषणाएं करती है. इसके कारण दोनों ने देश की जनता का विश्वास खो दिया है.

यह भी पढ़ें:  राफेल की खरीद में सरकार ने निर्धारित प्रक्रिया का पालन किया : सूत्र

सतना में आम सभा के बाद राहुल रीवा के लिये रवाना हो गये. वहां गुरुवार को उनका रोड शो आयोजित किया गया है. इससे पहले गुरुवार को सुबह राहुल ने सतना जिले में भगवान राम की तपोस्थली चित्रकूट में प्रसिद्ध कामता प्रसाद मंदिर में पूजा अर्चना कर अपने दो दिवसीय चुनावी दौरे का आगाज किया.

चित्रकूट में आमसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अगर 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद कांग्रेस केंद्र की सत्ता में आई, तो उनकी पार्टी माल और सेवा कर (जीएसटी) कम करने के लिए इसमें बदलाव करेगी.

उन्होने बीजेपी नेतृत्व वाली एनडीए सरकार पर हमला करते हुए कहा, 'गुरुवार को का जीएसटी तो ‘गब्बर सिंह टैक्स’ है. नोटबंदी और इस गब्बर सिंह टैक्स को लागू करके मौजूदा सरकार छोटे दुकानदारों, छोटे उद्योगों और रोजगार को खत्म कर दिया है. जैसे ही हमारी सरकार आएगी, हम इस ‘गब्बर सिंह टैक्स’ को असली टैक्स में बदल देंगे.'

यह भी पढ़ें:  राफेल मुद्दे पर शरद पवार ने PM का दिया साथ, कहा- मोदी की मंशा पर शक नहीं

राहुल ने कहा, '(देश में) एक टैक्स लागू होगा. कम से कम टैक्स लागू होगा.' उन्होंने कहा कि हम पूरी शक्ति रोजगार देने में लगा देंगे. मालूम हो कि जीएसटी पिछले साल से ही देश में लागू हुआ है. उन्होंने कहा, 'रक्षा मंत्री कहती हैं कि हम राफेल की कीमत नहीं बता सकते हैं. लेकिन फ्रांस के राष्ट्रपति ने मुझसे कहा था कि कीमत गोपनीय रखने का कोई समझौता नहीं हुआ है.'

राहुल ने कहा, 'मोदी सरकार ने 526 करोड़ रूपये का लड़ाकू राफेल विमान 1600 करोड़ रुपये में खरीदने का सौदा किया है.' उन्होंने कहा कि मोदी ने एचएएल से कॉन्ट्रैक्ट छीनकर निजी कंपनी को 30,000 करोड़ रुपये का कॉन्ट्रैक्ट दिया है.

राहुल ने कहा, 'हिंदुस्तान के चौकीदार ने चोरी कर ली.' मोदी की सभाओं में कम लोगों के आने का दावा करते हुए राहुल ने कहा, 'इसीलिए ट्रेनें खाली हैं, बस खाली है, उनके (मोदी) भाषण में कुर्सी खाली पड़ी हैं.' उन्होंने कहा, 'किसान नरेंद्र मोदी से नाराज हैं. सभी उनको झूठा कह रहे हैं.'

यह भी पढ़ें:  चित्रकूट के घाट से राहुल गांधी ने किया मिशन विंध्य का शंखनाद

उन्होंने कहा, 'नरेंद्र मोदी मुझसे आंख भी नहीं मिलाते हैं. साथ ही हिंदुस्तान के युवाओं से भी मोदी आंख नहीं मिला पाते हैं.' उन्होंने कहा, 'मैंने प्रधानमंत्री मोदी से चार सवाल पूछे थे कि आपने एचएएल से कॉन्ट्रैक्ट छीन कर निजी कंपनी को क्यों दे दिया. आपने हिंदुस्तान के साथ धोखा क्यों किया. मगर मेरे सवालों का मोदी ने कोई जवाब नहीं दिया.' कांग्रेस अध्यक्ष ने मध्य प्रदेश में कांग्रेस के सत्ता में आने पर किसानों का कर्जा 10 दिन के अंदर माफ करने के अपने वादे को भी दोहराया .

उत्तर प्रदेश के अमेठी लोकसभा क्षेत्र से 48 वर्षीय सांसद राहुल गुरुवार को सुबह हेलीकॉप्टर से इलाहाबाद से सतना जिले के चित्रकूट पहुंचे और सीधे यहां पवित्र कामदगिरि पर्वत स्थित कामतानाथ मंदिर के दर्शन करने गये. वह मंदिर में करीब आधा घंटे तक रूके और पूजा-अर्चना की. इस दौरान उनके साथ मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ, प्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया एवं मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह भी मौजूद थे. (एजेंसी इनपुट के साथ)

यह भी पढ़ें: सिद्धार्थनाथ सिंह का पलटवार, अब झूठ के शहंशाह बन गए हैं राहुल गांधी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading