लाइव टीवी

माता-पिता की कलह का शिकार हुए चार मासूम का हाथ, बुजुर्ग दादा-दादी ने पुलिस से लगाई मदद की गुहार

Shivendra Singh Baghel | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 24, 2019, 3:02 PM IST
माता-पिता की कलह का शिकार हुए चार मासूम का हाथ, बुजुर्ग दादा-दादी ने पुलिस से लगाई मदद की गुहार
माता-पिता के भूमिगत होने के बाद चारों मासूमों की परवरिश का जिम्‍मा उसने बुजुर्ग दादा-दादी के कंधों पर आ गया है.

आपसी कलह के चलते अलग हुए इस दंपति ने अपने चारों बच्‍चों को बेसहारा छोड़ दिया है. अब इन मासूमों की परवरिश का जिम्‍मा उम्र के आखिरी पड़ाव पर पहुंच चुके दादा-दादी के कंधो पर आ गया है.

  • Share this:
सतना: मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सतना (Satna) से रिश्‍ते (Relation) की डोर टूटने का अजीबो-गरीब मामला सामने आया है. जहां माता-पिता (Parents) के बीच चल रही कलह (Dispute) का दंश चार मासूबों को झेलना पड़ रहा है. दरअसल, आपसी कलह के चलते अलग हुए इस दंपति (couple) ने अपने चारों बच्‍चों को बेसहारा छोड़ दिया है. अब इन मासूमों की परवरिश का जिम्‍मा उम्र के आखिरी पड़ाव पर पहुंच चुके दादा-दादी (grandparents) के कंधो पर आ गया है. यह बुजुर्ग दंपति न ही शारीरिक तौर पर इन बच्‍चों की देखभाल के लिए सक्षम है और ना ही आर्थिक तौन पर इतना मजबूत है कि वह इन बच्‍चों की बेहतर परवरिश कर सके. बेसहारा हुए इन चारों बच्‍चों की परवरिश के लिए इस बुजुर्ग दंपति ने मदद के लिए अब मध्‍य प्रदेश पुलिस (MP Police) का दरवाजा खटखटाया है.

पति-पत्‍नी ने एक दूसरे के खिलाफ दर्ज कराया मुकदमा
उल्‍लेखनीय है कि सतना की नई बस्‍ती में रहने वाले कारोबारी ने तिहारा निवासी कुसुम के साथ प्रेम विवाह किया था. समय के साथ इनके परिवार में चार बच्‍चे शामिल हुए. जिसमें सबसे बड़ी चार साल की दो जु‍ड़वा बेटियां, तीन साल की तीसरी बेटी और दो साल का बेटा शामिल है. बीते कुछ वर्षों से इस दंपति के बीच छोटी-छोटी बातों पर विवाद होने लगा. यह विवाद इस कदर बढ़ गया कि कुसुम न केवल घर छोड़कर चली गई, बल्कि अपने पति मनोज पर मारपीट का मुकदमा दर्ज करा दिया. वहीं इस मुकदमें के दर्ज होने के बाद मनोज ने भी कुसुम के खिलाफ जेवर और नदगी लेकर फरार होने का मुकदमा दर्ज करा दिया. दोनों पक्षों की तरफ से मुदकमा दर्ज होने के बाद इस दंपति को अपनी गिरफ्तारी का डर सताने लगा.

बच्‍चों की परवरिश को लेकर बुजुर्ग दंपति ने सतना पुलिस के अतिरिक्‍त पुलिस अधीक्षक से मदद की गुहार लगाई है. An elderly couple has requested help from the Superintendent of Police in addition to the Satna police to raise children.
बच्‍चों की परवरिश को लेकर बुजुर्ग दंपति ने सतना पुलिस के अतिरिक्‍त पुलिस अधीक्षक से मदद की गुहार लगाई है.


अपनी गिरफ्तारी के डर से भूमिगत हुए पति-प‍त्‍नी
दोनों पक्षों से मुकदमा दर्ज होने के बाद, मनोज और कुसुम को यह डर सता रहा था कि कहीं पुलिस उन्‍हें गिरफ्तार न कर ले. इसी डर के चलते दोनों अपने चार मासूम बच्‍चों को बेसहारा छोड़कर भूमिगत हो गए. इन परिस्थितियों में चारों मासूमों की परवरिश का जिम्‍मा चारों बच्‍चों के दादा-दादी पर आ गया. उम्र की दहलीज पर पहुंच चुके यह बुजुर्ग दंपति अब चाह कर भी इन बच्‍चों की परवरिश नहीं कर पा रहा है. इन बच्‍चों के दादा जगत कुमार का कहना है कि एक तो उसकी उम्र बहुत हो चुकी है और दूसरा वह शरीर से दिव्‍यांग है. ऐसी परिस्थितियों में उनके लिए इन बच्‍चों की परवरिश करना नामुमकिन सा है. जगत कुमार चाहते हैं कि पुलिस जल्‍द से जल्‍द उनके बेटे मनोज को खोजे और इन बच्‍चों की जिम्‍मेदारी उनके पिता को सौंप दे.

बुजुर्ग दंपति ने एसपी से लगाई मदद की गुहार
Loading...

यह बुजुर्ग दपंति इन चारों बच्‍चों के साथ मदद की आस लेकर सतना के पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचा. जहां उसने सतना के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गौतम शोलंकी को अपनी आप बीती सुनाई. बुजुर्ग दंपति का दास्‍तान सुनने के बाद अब पुलिस भी इस असमंजस में है कि इन मासूम बच्‍चों और बुजुर्ग दंपति की मदद कैसे की जाए. फिलहाल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गौतम शोलंकी ने कोलगवां थाना पुलिस को निर्देश दिए हैं कि जल्‍द से जल्‍द मनोज कुमार को खोजकर निकाले. अब देखना यह है कि भूमिगत हुए मनोज कुमार और कुसुम का दिल अपने मासूम बच्‍चों के लिए पसीजता है या अपने माता-पिता की कलह के चलते यह बच्‍चे दर-दर की ठोकर खाने को मजबूर होते हैं.

यह भी पढ़ें:
MP के पूर्व सीएम कैलाश जोशी को पीएम नरेंद्र मोदी ने दी श्रद्धांजलि, कमलनाथ और शिवराज ने किया याद
शिवपुरी: कंटेनर में घुसी कार के परखच्चे उड़े, हादसे में श्योपुर के सिविल जज की मौत
मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कैलाश जोशी का 91 साल की उम्र में निधन
सरकारी नौकरी : अधिकतम आयु सीमा में बदलाव कर बेरोजगारी दूर करेगी कमलनाथ सरकार


 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सतना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 24, 2019, 3:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...