रिश्ते के नाना ने नाबालिग से किया दुष्कर्म का प्रयास, केस दर्ज

आरोप है कि पांच मई को बारात के बाद वह घर में सो रही थी कि तभी सगी चाची के पिता मासूम के पास पहुंचा और उसका मुंह दबा अपनी हवस का शिकार बनाने लगा.

Shivendra Singh Parmar | News18 Madhya Pradesh
Updated: May 18, 2018, 5:39 PM IST
रिश्ते के नाना ने नाबालिग से किया दुष्कर्म का प्रयास, केस दर्ज
अपने साथ की गई दरिंदगी को बताते हुए आंसू छलक पड़े मासूम के
Shivendra Singh Parmar | News18 Madhya Pradesh
Updated: May 18, 2018, 5:39 PM IST
सतना के नागौद थाना के जाखी गांव की एक 12 साल की मासूम अपने चाची के साथ शादी समारोह में भाग लेने सेमरी गांव गई थी. आरोप है कि पांच मई को बारात के बाद वह घर में सो रही थी कि तभी सगी चाची के पिता मासूम के पास पहुंचा और उसका मुंह दबा अपनी हवस का शिकार बनाने लगा. लेकिन अभी वह अपने प्रयास में पूरी तरह सफल होता उससे पहले अन्य लोगों के जागने की आहट पाकर वह भाग खड़ा हुआ.

पीड़ित मासूम रोती बिलखती सो गई और सुबह घटना की जानकारी अपनी चाची को दी. अपने पिता की करतूत पर चाची ने पांच दिनों तक पर्दा डाले रखा और फिर बच्ची को उसके मां के पास सतना छोड़ दिया. दर्द से कराहती मासूम ने अपनी आपबीती मां को बताई. पहले तो मां को रिश्ते के नाना की करतूत पर विश्वास ही नहीं हुआ मगर शरीर में लगे घाव देखकर मां समझ गई. वह मासूम को उपचार के लिए डॉक्टर के पास ले गई मगर डॉक्टर ने पुलिस केस होने का हवाला देकर उपचार से मना कर दिया. पीड़ित मां सतना के कोलगवां थाने में शिकायत करने पहुंची मगर पुलिस मामला नागौद थाना क्षेत्र की होने का बताकर रिपोर्ट नहीं लिखी.

आखिरकार पीड़िता मासूम को लेकर नागौद थाना पहुंची मगर तीन दिन तक भटकाने के बाद आरोपी नाना के खिलाफ सिर्फ छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया गया. पीड़ित खुलकर अपने साथ हुई दरिंदगी का बयान कर रही है मगर पुलिस न बलात्कार का मामला दर्ज किया और न ही पीड़ित के मेडिकल कराया. वहीं पीड़ित मासूम की मां का कहना है कि उसपर समझौते का दबाव बनाया जा रहा है. पति की एक साल पहले मौत हो चुकी है. ऐसे में पीड़ित मां अपनी बच्ची को लेकर मायके में पनाह ले चुकी है और न्याय की गुहार लगा रही है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर