सतना : इस सड़क से संभल कर गुजरना, तेंदुआ और बाघिन कर रहे हैं हमला, देखें Video

इलाके में बाघिन और शावकों के पगमार्क मिले हैं.
इलाके में बाघिन और शावकों के पगमार्क मिले हैं.

एतियातन उचेहरा परस्मानिया मार्ग और लोगों के जंगल (Forest) में जाने पर पाबंदी (Ban) लगा दी गयी है. जंगल से लगे गांवो में मुनादी कराकर लोगों को आगाह किया जा रहा है. अब वन अमला धनिया गांव के पास जंगलो में सीसीटीवी कैमरे लगा रहा है.

  • Share this:
सतना.सतना (Satna) जिले के उचेहरा क्षेत्र के जंगल से सटे इलाके में बाघिन और तेंदुआ खतरा पैदा कर रहे हैं. वो हमलावर हो गए हैं और आते-जाते लोगों पर हमला (Attack) कर रहे हैं. गुरुवार को वन विभाग के गश्ती दल को निशाना बनाया और आज एक बाइक सवार पर हमला कर दिया. इन हमलों में कुल तीन लोग घायल हो गए.

सतना जिले के उचेहरा क्षेत्र के जंगल में पिछले एक माह से लगातार बाघ की मौजूदगी के प्रमाण मिल रहे थे. गुरुवार को वन विभाग के गश्ती दल पर किसी जंगली जानवर ने अचानक हमला कर दिया था. बाद में हमला करने वाले की पहचान बाघिन के रूप में हुई. घटना स्थल पर वन विभाग ने बाघिन और दो शावको के पद चिन्ह मिलने की पुष्टि की.

घायल और गुस्से में है तेंदुआ
आज उसी जगह एक तेंदुआ दिख रहा है जो आक्रामक है और घायल अवस्था में है. वो सड़क से गुजर रही गाड़ियों को निशाना बना रहा है. ये तेंदुआ धनिया गांव के पास बह रहे नाले के किनारे चहलकदमी कर रहा है.वन विभाग लोगों को जंगल से दूर रहने और इस मार्ग से आवाजाही बंद करने की मुनादी करा रहा है. आशंका है कि बाघिन और तेंदुओ दोनों के बीच संघर्ष हुआ.
बाघों का पलायन


पन्ना रिजर्व टाइगर से बाघ पलायन कर सतना जिले के जंगलों में अपनी टेरेटरी बना रहे हैं. इसके लिए चित्रकूट और परस्मानिया के जंगल में आये दिन बाघों की मौजूदगी के प्रमाण मिलते हैं. पिछले एक माह से उचेहरा वन रेंज के धनिया बीट में बाघ के मौजूद होने की जानकारी थी.वन अमला लगातार गश्त कर रहा था. इसी बीच गश्ती दल पर हमला हो गया. हमले में बीट गार्ड रामदयाल दुबे और श्रमिक श्रवण यादव गंभीर रूप से घायल हो गए. वन विभाग ने घटना स्थल का निरीक्षण किया जहां बाघिन और दो शावको के पद चिन्ह मिले.

गश्ती दल और बाइक सवार पर हमला
देर रात भी एक बाइक सवार पर हमला हुआ. बाइक सवार बाइक छोड़ भाग निकला.आज सुबह से इसी जगह पर एक तेंदुआ दिखाई दे रहा है जो घायल है. वो वाहनों को निशाना बना रहा है. इलाके में भय का वातावरण बना हुआ है. एतियातन उचेहरा परस्मानिया मार्ग और लोगों के जंगल में जाने पर पाबंदी लगा दी गयी है. जंगल से लगे गांवो में मुनादी कराकर लोगों को आगाह किया जा रहा है. अब वन अमला धनिया गांव के पास जंगलो में सीसीटीवी कैमरे लगा रहा है. आशंका है कि कि इस इलाके में बाघिन और तेंदुआ दोनों मौजूद हैं. दोनों के बीच झड़प हुई है. तेंदुआ बाघिन के हमले में घायल है इसलिए वो आक्रामक हो चुका है.

शावक लापता
गांव वालों का कहना है मादा तेंदुआ अक्सर दो शावकों के साथ घूमती दिखती थी. लेकिन अब वो अकेले दिख रही है. शावक कहीं दिखाई नहीं दे रहे हैं. आशंका जताई जा रही कि कहीं शावक लापता तो नहीं है. इस वजह से वो आक्रामक हो गयी है. एतियातन जंगल से लगे गांवों के लोगो को सतर्क कर दिया गया है. वन अमला लगातार इलाके की निगरानी कर रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज