होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /सतना: संपत्ति-कर के बड़े बकाएदारों पर सख्ती, नगर निगम ने घरों पर की तालाबंदी

सतना: संपत्ति-कर के बड़े बकाएदारों पर सख्ती, नगर निगम ने घरों पर की तालाबंदी

बड़े बकायादार के संस्थान में तालाबंदी करते हुए निगम का अमला.

बड़े बकायादार के संस्थान में तालाबंदी करते हुए निगम का अमला.

सतना में नगर निगम ने संपत्ति कर बकायेदारों के खिलाफ पहली बार लिया बड़ा एक्शन, आज तीन बड़े बकायेदारों की घरों में की ताल ...अधिक पढ़ें

    प्रदीप कश्यप/सतना.
    सतना में नगर निगम ने संपत्ति-कर बकायेदारों के खिलाफ पहली बार बड़ा एक्शन लिया है.तीन बड़े बकायेदारों केघरों व संस्थानों में गुरुवार को तालाबंदी की गई. ये वो लोग हैं,जिनकासंपत्ति-कर 5 लाख रुपए से अधिक बकाया है. निगम प्रशासन का कहना है कि अगर समय पर संपत्ति कर नहीं जमा किया तो मकान की कुर्की की जाएगी.

    सतना नगर निगम ने 5 लाख रुपये से अधिक संपत्ति-कर के बड़े बकायेदारों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. बीते दिनों नगर निगम द्वारा बड़े बकायेदारों के नाम सार्वजनिक कर पोस्टर शहर के चौराहे में लगा दिए गए थे. जिससे बकायेदारों की बदनामी हो रही थी. इसके बावजूद लोगों ने जब प्रॉपर्टी टैक्स नहीं जमा किया तो उनके घरों एवं संस्थानों पर तालाबंदी शुरू कर दी गई है, और गुरुवार को नगर निगम प्रशासन द्वारा ऐसे तीन डिफॉल्टरो कें घरों की तालाबंदी कर दी है. इनमें मदनलाल जैन पिता चिरौंजी लाल जैन का 8 लाख 86 हजार 396 रुपए संपत्ति-कर बकाया है, दूसरा जितेंद्र पाल पिता महेंद्र पाल मोगिया जिनका 8 लाख 14 हजार 864 रुपए और तीसरा लाल जमुना प्रताप सिंह हैं जिनका 7 लाख 70 हजार 642 रुपए संपत्ति-कर बकाया है.

    70 फीसदी लोगों ने अभी तक नहीं भरा टैक्स
    इस बारे में निगम कमिश्नर राजेश शाही ने बताया कि नगर निगम द्वारा संपत्ति कर को लेकर लगातार कई प्रयास किए जा रहे हैं लेकिन लोग मानने को तैयार नहीं है ऐसे में पूर्व में बड़े बकायेदारों के नाम का पोस्टर शहर में लगाया गया था, जिनमें से कुछ लोगों ने संपत्ति कर जमा किया लेकिन अभी भी, करीब 70% लोगों ने संपत्ति कर नहीं जमा किया है, ऐसे में नगर निगम द्वारा बड़े बकायेदारों के घर पर तालाबंदी की कार्यवाही आज की गई है जिनमें 3 बड़े बकायेदारों के घर में तालाबंदी कर वैधानिक कार्रवाई की जा रही है, अगर इन्होंने समय पर टैक्सजमा नहीं किया तो इनके खिलाफ कुर्की की कार्रवाई की जा सकती है.

    Tags: Madhya pradesh news, Satna news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें