• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • सतना पटवारी हत्याकांड : बेवफाई से तंग पत्नी ने 8 साल छोटे प्रेमी संग किया था मर्डर, पढ़ें इनसाइड स्‍टोरी

सतना पटवारी हत्याकांड : बेवफाई से तंग पत्नी ने 8 साल छोटे प्रेमी संग किया था मर्डर, पढ़ें इनसाइड स्‍टोरी

सतना का पटवारी हत्याकांड  पुलिस ने सुलझाया

सतना का पटवारी हत्याकांड पुलिस ने सुलझाया

हत्‍या की आरोपी महिला का प्रेमी उससे 8 साल छोटा था. मर्डर मिस्ट्री (Murder Mystery) सुलझाने के लिए पुलिस अधीक्षक की मौजूदगी में घटना का रिक्रेएशन भी कराया गया था.

  • Share this:
सतना. दो मंजिला मकान के गिरने से पटवारी की संदिग्ध हालात में हुई मौत (Death) की मिस्ट्री को पुलिस ने सुलझा दिया है. पटवारी की मौत हादसा में नहीं, बल्कि उनकी सुनियोजित तरीके से हत्‍या (Murder) की गई थी. जांच में इस हत्‍याकांड का मास्टरमाइंड खुद पटवारी की पत्नी निकली. मामला पति-पत्नी और वो का था. पटवारी और उनकी पत्नी दोनों के अलग-अलग प्रेम संबंध थे. पुलिस ने बताया कि पति की बेवफाई और प्रताड़ना से तंग पत्नी भी किसी और के प्यार में पड़ गयी और फिर आशिक के साथ मिलकर पति को हमेशा के लिए रास्ते से हटा दिया. पत्नी का प्रेमी उससे 8 साल छोटा था. मर्डर मिस्ट्री (Murder Mystery) सुलझाने के लिए पुलिस अधीक्षक की मौजूदगी में घटना का रिक्रेएशन भी कराया गया था.

इस सनसनीखेज हत्याकांड में पटवारी संदीप की हत्या उसकी पत्नी प्रियंका ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर की. इसमें आशिक के एक दोस्त ने भी साथ दिया. तीनों ने मिलकर पटवारी को छत से नीचे फेंक दिया था. उसके बाद भी कहीं वो बच न जाए, इसलिए पत्थर पर पटक कर हत्या कर दी. पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे डाल दिया है.



मोबाइल फोन से मिला क्लू
पटवारी संदीप सिंह संतोषी बिहार कॉलोनी में किराये के दो मंजिला मकान में पत्नी प्रियंका और दो बेटियों के साथ रहता था. वो सगौनी हल्का में पटवारी था. 1 जून को वह छत के नीचे बुरी तरह ज़ख्मी हालत में पड़ा मिला था. अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पहली नज़र में ये हादसा लगा कि संदीप की छत से गिरकर मौत हुई है, लेकिन घटनास्थल की जांच के दौरान फॉरेंसिक अधिकारी और कोलगवां पुलिस को संदेह हुआ कि दो मंजिला इमारत से गिरने के बावजूद उसके मोबाइल फोन में खरोंच तक नहीं आयी. ये कैसे हो सकता है. इतनी ऊंचाई से गिरने पर बॉडी इतनी दूर पड़ी नहीं मिल सकती. ऐसे में संदेह गहराया कि हो न हो मृतक को छत से धक्का दिया गया और फिर उस पर वजनी चीज से हमला किया गया. फॉरेंसिक अधिकारी का मानना था कि अगर कोई व्यक्ति इमारत से गिरता या कोई धक्का देता तो वह 6 से 7 फुट से ज्यादा दूर नहीं गिर सकता था.



डमी से रिक्रिएशन
पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गौतम सोलंकी, सहित आलाधिकारी संतोषी बिहार कॉलोनी स्थित मृतक पटवारी के दो मंजिला मकान की छत पर पहुंचे. पुलिस ने मृतक के वजन और ऊंचाई का एक मानव डमी तैयारी कराई. पुलिस अधीक्षक की मौजूदगी में डमी को तीन बार छत से नीचे फेंका गया, ताकि यह पता चल सके कि यदि कोई व्यक्ति स्वाभाविक रूप से नीचे गिरेगा तो वह कितनी दूर जाकर गिरेगा. जाएगा. अगर कोई धक्का देता है तो आदमी कहां तक जाएगा?डमी टेस्ट में पाया गया कि अगर व्यक्ति अपने-आप गिरता तो वह दीवार से 3 से 4 फिट दूर तक जाता. अगर स्वयं कूदता तो 5-6 फिट तक जाता लेकिन मृतक पटवारी की लाश तकरीबन 12 फिट दूर पड़ी मिली थी. डमी टेस्ट से हकीकत सामने आई कि पटवारी के साथ छत पर हाथापाई की गई फिर उसे धक्का दिया गया. छत से गिरने के बाद फिर उसके साथ मारपीट कर पत्थर पटक कर हत्या की गई.

पटवारी के महिला सहयोगी से थे संबंध
इसके बाद पुलिस की जांच इस दिशा में बढ़ी कि आखिर उसकी हत्या किसने और क्यों की. जांच में पता चला कि मृतक पटवारी संदीप के करीबी संबंध एक महिला पटवारी से थे. महिला पटवारी का संदीप के घर अक्सर आना- जाना था. पति के प्रेम संबंधों का विरोध करने पर संदीप अपनी पत्नी प्रियंका के साथ अक्सर मारपीट करता था. प्रेमिका पटवारी के सामने भी संदीप कई मर्तबा अपनी प्रियंका को पीट चुका था.

पत्नी ने बताया
प्रियंका ने पुलिस को बताया कि महिला पटवारी के साथ पति कई बार घर में ही आपत्ति जनक हालत में मिला था.विरोध करने पर संदीप और प्रेमिका महिला पटवारी बार-बार उसे हत्या की धमकी देते थे. संदीप ने तलाक के लिए आवेदन भी लगा रखा था. प्रियंका ने तलाक के बदले 20 लाख रुपए मांगे थे. इस पर संदीप और उसकी प्रेमिका ने प्रियंका की हत्या का प्लान बनाया. ये भनक लगते ही प्रियंका ने अपनी जान बचाने और संदीप को रास्ते से हटाने के लिए अपने परिचित अनूप से मदद मांगी. अनूप के साथ उसका दोस्त सनी भी था.

प्रियंका के भी थे प्रेम संबंध
मृतक पटवारी संदीप की दो बेटियां बोंनाजा स्कूल में पढ़ती हैं. बेटियों को स्कूल छोड़ने और लाने के दौरान प्रियंका का परिचय अनूप नाम के युवक से हुआ. बकौल प्रियंका पति की प्रताड़ना से परेशान होकर मेरा झुकाव अनूप की ओर हो गया. अनूप साथ रहने की जिद करने लगा. एक दिन अनूप को घर में देखकर पति संदीप ने दोनों के साथ मारपीट की.इससे तंग आकर प्रियंका और अनूप ने मिलकर पटवारी की हत्या की साज़िश रची. इसमें अनूप के दोस्त सनी ने भी साथ दिया.

30 मई की वो रात...
प्रियंका ने पुलिस को बताया कि 30 मई की रात 11 बजे संदीप खाना खाकर रोजाना की तरह मोबाइल लेकर छत पर चला गया. एक घंटे बाद प्रियंका ने नीचे जाकर मेन दरवाजा खोल दिया. तय साज़िश के मुताबिक अनूप घर के अंदर आ गया. प्रियंका उसे लेकर छत पर गई. दोनों को देखकर संदीप चौक गया. उसने भागने की कोशिश की.लेकिन अनूप ने उसे पकड़ लिया और फिर दोनों ने मिलकर संदीप को छत से नीचे फेंक दिया. नीचे गिरने के बाद लहूलुहान संदीप कराह रहा था.अनूप नीचे गया और फिर उसके सिर पर पत्थर पटक कर मार डाला. उसके बाद अनूप का दोस्त सनी आया और अनूप को लेकर चला गया.उसके बाद प्रियंका ने छत पर पड़े पति का मोबाइल फोन और मेन गेट की चाभी किचन में छुपा दी. दो घंटे बाद मकान मालिक को जगाया और उनके साथ पति की तलाश में बाहर आई.

पत्नी, प्रेमी और दोस्त गिरफ्तार
पटवारी की मर्डर मिस्ट्री को सुलझाने के बाद पुलिस ने उसकी पत्नी प्रियंका सिंह 29 वर्ष को गिरफ्तार कर लिया. प्रियंका का प्रेमी अनूप और उसका दोस्त सनी यूपी भागने की फिराक में थे. पुलिस ने घेराबंदी कर अनूप सिंह 21 वर्ष और सनी सिंह 20 वर्ष को धर दबोचा.

ये भी पढ़ें-

Madhya Pradesh : 80 दिन से थमें हैं बसों के पहिए : सरकार नहीं ले पा रही फैसला

JABALPUR : पुलिस हिरासत में इनामी बदमाश की मौत पर सवाल, 5 पुलिस वाले सस्पेंड

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज