• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • RAIGAON by Election : रूठों को मनाने के लिए BJP ने एड़ी-चोटी का जोर लगाया, बागी कल लेंगे नाम वापस

RAIGAON by Election : रूठों को मनाने के लिए BJP ने एड़ी-चोटी का जोर लगाया, बागी कल लेंगे नाम वापस

रैगांव सीट पर बीजेपी के स्व. विधायक जुगल किशोर बागरी के बेटा बहू दावा कर  रहे थे.

रैगांव सीट पर बीजेपी के स्व. विधायक जुगल किशोर बागरी के बेटा बहू दावा कर रहे थे.

RAIGAON SEAT : सतना जिले की रैगांव विधानसभा सीट (Assembly by Election) बीजेपी विधायक (BJP MLA) जुगल किशोर बागरी के निधन से खाली हुई है. उपचुनाव में उनके बड़े बेटे पुष्पराज बागरी और छोटी बहू वंदना बागरी ने नामांकन भर दिया था. भितरघात के कारण ही दमोह सीट खो चुकी बीजेपी में इससे बेचैनी बढ़ गयी थी.

  • Share this:

सतना. रैगांव (Raigaon) के रण में बीजेपी (BJP) के बागी अब मानने लगे हैं और बात बनती दिख रही है. बागरी परिवार ने अपने तेवर नरम किये और अपना नामांकन वापिस लेने के लिए हामी भर दी है. बागियों को मनाने की जिम्मेदारी खनिज मंत्री बृजेन्द्र सिंह और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष गगनेन्द्र सिंह को सौंपी गयी थी.

भाजपा के कथित बागी चुनावी समर से अपना नामांकन वापस लेंगे. रूठों को मनाने की जिम्मेदारी भाजपा ने खनिज मंत्री बृजेन्द्र सिंह और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष गगनेन्द्र सिंह को सौंपी थी. आज स्व विधायक जुगल किशोर के बागी पुत्र पुष्पराज, पुत्र वधु वंदना देवराज बागरी ने अपने तेवर नरम किये और राकेश कोरी भी अपना नामांकन पत्र वापस लेने के लिए तैयार हो गए. कल 13 अक्टूबर को नामांकन वापस लेने की अंतिम तारीख है. ऐसे में संभावना है कि 12 बजे तक भाजपा के सभी बागी अपना नामांकन वापस ले सकते हैं.

ये भी पढ़ें- JOBAT by Election : आखिरकार मान गए दीपक भूरिया नामांकन वापस लिया, कमलनाथ से क्या मिला आश्वासन!

ऐसे बनी बात
खनिज मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह और भाजपा नेता गगनेन्द्र प्रताप सिंह ने आज इन रूठे हुए सदस्यों के साथ बैठक की. बैठक में स्व जुगल किशोर बागरी के छोटे पुत्र देवराज ने पत्नी का नाम वापस लेने की सहमति दे दी. बाद में बृजेन्द्र सिंह ने कहा-भाजपा परिवार एक है. जब वर्षों से जिस परिवार का राजनीति में दबदबा रहा हो और टिकट उस परिवार को न मिले तो तकलीफ तो होती है. लेकिन सब ठीक होगा. जुगल दादा के परिवार के मान सम्मान में कभी कोई कमी नहीं होगी.

जुगुल किशोर बागरी के निधन से खाली हुई सीट
सतना जिले की रैगांव विधानसभा सीट बीजेपी विधायक जुगल किशोर बागरी के निधन से खाली हुई है. कोरोना की दूसरी लहर के दौरान उनका निधन हो गया था. वो भाजपा के पुराने नेता था. निधन के बाद इस सीट पर हो रहे उपचुनाव में उनके बड़े बेटे पुष्पराज बागरी और छोटी बहू वंदना बागरी ने टिकट के लिए दावा पेश कर दिया था. पहले दोनों में अनबन थी. लेकिन जब पार्टी ने प्रतिमा बागरी को टिकट दे दिया तो जुगल किशोर बागरी का परिवार यानि जेठ-बहू साथ हो गए और दोनों ने इस सीट के लिए नामांकन भर दिया था. भितरघात के कारण ही दमोह सीट खो चुकी बीजेपी में इससे बेचैनी बढ़ गयी थी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज