सतना का यह किसान परिवार इसलिए हो रहा है परेशान...
Satna News in Hindi

सतना का यह किसान परिवार इसलिए हो रहा है परेशान...
सतना के गांधी गांव में किसान की बोरिंग से निकले क्रिस्टल फोटो: ईटीवी

गांधी गांव में बोरिंग से निकल रहे क्रिस्टल बन रहे चर्चा का कारण. किसान के परिवार ने बोरिंग पानी पीना छोड़ा

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
सतना जिले के गांधी गांव में एक किसान परिवार की बोरिंग से निकल रहे पारदर्शी क्रिस्टल पदार्थ कौतूहल का विषय बना हुआ है. इन चर्चाओं के चलते  भय के मारे किसान कल्याणमल चौधरी के परिवार ने बोरिंग के पानी को उपयोग में लेना बंद कर दिया है.

वैसे मध्यप्रदेश का सतना जिला अपने में पहले से ही बेशकीमती खनिजों के भंडार समेटे हुए है. यहां अक्सर भूगर्भीय घटनाएं होती रहती हैं, जिनमें कई बार काफी कीमती खनिज पदार्थ भी मिल जाते हैं.

क्रिस्टल निकलने की जब जानकारी जिला खनिज विभाग को मिली तो उनकी भी एक टीम इन क्रिस्टल पड़ताल करने गांव आई. इस टीम व मीडिया ने जब बोरिंग में पानी के साथ इन क्रिस्टल को निकलते देखा तो वे भी अचरज में पड़ गए. ये क्रिस्टल द्रव्य रूप में निकलने के कुछ देर बाद संगठित को होकर ठोस रूप धारण कर लेते हैं. दिखने में बिल्कुल चमकीले एवं पारदर्शी इस पदार्थ की खनिज विभाग की टीम ने बारीकी से सैंपलिंग की है.



खनिज निरीक्षक पवन कुशवाहा शुरुआती जांच के बाद बताया कि इन पदार्थों के सैंपल अभी लिए गए हैं ऐसे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी. यहां लिए गए सैंपल को जबलपुर लैब भिजवाया जाएगा. वहां जांच होने के बाद ही इनके बारे में स्पष्ट रूप से कुछ कहा जा सकेगा.



कुशवाहा ने आगे बताया कि इस पूरे इलाके में लाइन स्टोन के भंडार पाए जाते है. यहां के भू-गर्भ में कई प्रकार के गुफा बने हुए हैं, जहां संभवत: ऐसे क्रिस्टल का निर्माण होता है. इस परिवार को जल विभाग से जांच करवाने के बाद ही पानी को इस्तेमाल करने का भी हमने सुझाव दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading