होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /Traffic Jam : पुलिस ने निकाल दी बेतरतीब खड़े ट्रकों की हवा, सड़क चलते लोग रह गए हैरान!

Traffic Jam : पुलिस ने निकाल दी बेतरतीब खड़े ट्रकों की हवा, सड़क चलते लोग रह गए हैरान!

आपने अभी तक ट्रैफिक पुलिस को नो पार्किंग में खड़े दोपहिया और चार पहिया वाहनों की हवा निकालते देखा होगा, लेकिन क्या कभी ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट – प्रदीप कश्यप

    सतना. आपने अभी तक ट्रैफिक पुलिस को नो पार्किंग में खड़े दोपहिया और चार पहिया वाहनों की हवा निकालते देखा होगा, लेकिन क्या कभी आपने ट्रकों के पहियों की हवा निकालते देखा है? अनोखी कार्रवाई सतना में देखने को मिली. ट्रैफिक पुलिस ने एक-दो नहीं, बल्कि दर्जनों ट्रकों के पहियों की हवा निकाल दी. भारी वाहनों पर इस तरह के एक्शन ने लोगों को हैरान भी किया और परेशान भी. आखिर पुलिस ने ऐसा क्यों किया?

    सतना की ट्रैफिक पुलिस ने शहर के नो एंट्री जोन पॉइंट के पास आधी सड़क तक अवैध पार्किंग वाले ट्रकों के पहियों की हवा निकाल दी. व्यवस्था बनाने के लिए ट्रैफिक थाना प्रभारी खुद सड़कों पर उतरे और सूबेदार और ट्रैफिक अमले के साथ यह कार्रवाई की. पुलिस द्वारा इस तरह की कार्रवाई देख लोग सड़क पर ठिठक गए क्योंकि भारी वाहनों के खिलाफ इसके पहले तक चलानी या कोर्ट की कार्रवाई की जाती थी. दरअसल कई ट्रक ड्राइवर तो मौके से गायब ही थे. आवाज़ लगाने पर भी नहीं पहुंचे तो पुलिस ने यह कदम उठाया. इस दौरान जो ट्रक चालक मौके पर मिले, उन्हें सख्त हिदायत दी गई.

    नो एंट्री जोन में मिल रही थी पार्किंग की शिकायत

    ट्रैफिक पुलिस को लगातार शिकायतें मिल रही थीं कि सतना शहर की नो एंट्री सीमा में सेमरिया मार्ग बिरला बदखर, सोहावल मोड़ और रीवा सतना के मुख्य मार्ग तीनों जगहों पर ट्रक ड्राइवर अपने वाहन खड़े कर आधी सड़कों को घेर लेते हैं, जिससे आवागमन अवरुद्ध हो जाता है. दिन हो या रात, ये ट्रक सड़कों को पार्किंग स्थल बनाए रखते हैं.

    इस बारे में ट्रैफिक थाना प्रभारी सत्यप्रकाश मिश्रा ने बताया कि पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर यह कार्रवाई की गई. सड़क किनारे खड़े भारी वाहनों के कारण अक्सर जाम लग जाता है और दुर्घटनाओं की आशंका भी रहती है. इस बारे में अनाउंसमेंट भी करवाया गया है. दोबारा यदि ऐसा हुआ तो इन वाहनों के खिलाफ जब्ती जैसी कठोर कार्रवाई की जाएगी.

    Tags: Satna news, Traffic Police

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें