सतना में 3 शव साथ मिलने से सनसनी, तो क्या नाबालिग प्रेमी और महिला ने मासूम बच्चे के साथ लगा ली फांसी?

(प्रतिकात्मक तस्वीर)

(प्रतिकात्मक तस्वीर)

सतना जिले के बरौधा थाना क्षेत्र साड़ा के जंगल मे पेड़ में लटकते मिले 3 शव को देखते ही सनसनी फैल गई. इन शवों में एक महिला समेत 2 नाबालिग फांसी पर लटके हुए मिले. घटना का कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हो सका है, लेकिन चर्चा नाबालिग से महिला के प्रेम प्रसंग की भी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 10, 2021, 7:49 PM IST
  • Share this:
सतना. मध्य प्रदेश ( Madhya Pradesh) के सतना ( Satna) जिले के बरौधा थाना क्षेत्र साड़ा  के जंगल मे पेड़ में लटकते मिले 3 शव को देखते ही सनसनी फैल गई. इन शवों में एक महिला समेत 2 नाबालिग फांसी पर लटके हुए मिले. घटना का कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हो सका है, लेकिन चर्चा नाबालिग से महिला के प्रेम प्रसंग की भी है. तो क्या किशोर प्रेमी समेत महिला अपने 5 वर्षीय मासूम के साथ फांसी पर झूल गई ?  पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है.

मध्यप्रदेश के सतना जिले के बरौंधा थाना क्षेत्र एक अजीबोगरीब प्रेम प्रसंग का मामला सामने आया है.  जिसमें बरौधा थाना क्षेत्र साड़ा के सुनसान जंगल में एक साथ तीन शव फांसी के फंदे पर झूलते मिलने से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई. निर्जन जंगल में मिले शवों में एक महिला और मासूम बालक शामिल हैं. जानकारी के मुताबिक बरौंधा थाना क्षेत्र के करीब 8 किलोमीटर दूर ग्राम साड़ा के जंगल में पेड़ पर फांसी के फंदे पर झूलते एक साथ 3 शवों में एक शव महिला का, दूसरा शव उसके 5 वर्ष के मासूम बेटे का है, तीसरा शव महिला के प्रेमी एक किशोर का बताया जा रहा है. हालांकि इस सुनसान जंगल मे कोई आता जाता नहीं है. लेकिन बीती शाम एक ग्रामीण उधर से गुजरा तो उसने एक साथ 3 शव लटके देख कर गांव वालों को सूचना दी.  जब गांव के लोग पहुंचे तो पता चला कि तीनों शव ग्राम सांडा के रहने वालों के ही हैं.

घटना की जानकारी बरौंधा पुलिस को दी गई, जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला गंभीर होने पर फोरेंसिक टीम को भी बुलाया. मृतकों की पहचान कुसुमकली यादव 32 वर्ष, आशीष यादव 5 वर्ष तथा सुशील यादव पुत्र रामआसरे यादव निवासी सांडा के रूप में हुई है. कुसुमकली का पति इंद्रपाल यादव मजदूरी करता है. उनके दो बच्चे हैं, जबकि सुशील मवेशी चराता था. विगत 28 मार्च से कुसुमकली अपनी बड़ी बेटी को घर में छोडक़र 5 साल के मासूम को साथ लेकर कहीं चली गई. इसके साथ गांव का सुशील यादव भी लापता था. परिजनों ने दोनों की तलाश की लेकिन कोई सुराग नहीं लगा तो बरौंधा थाना में गुमशुदगी की सूचना दर्ज करा दी गई.

अब तीनों के शव फांसी पर लटके हुए मिले.  तीनों शव सढ़ चुके थे.  पुलिस द्वारा तीनों शव को पीएम पोस्टमार्टम कराया गया. तीनों की मौत हत्या है या आत्महत्या पुलिस इसकी जांच कर रही है. स्थानीय लोगों के बीच ऐसी चर्चा है कि महिला का नाबालिग लडक़े सुशील के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था. महिला और नाबालिक इसी को लेकर घर से विगत 28 मार्च से लापता थे. अब उन दोनों के साथ मासूम की लाश भी जंगल में फांसी के फंदे पर झूलती मिली. पुलिस और फॉरेंसिक की टीम जांच में जुटी हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज