होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /देसी बॉय पर आया गोरी मेम का दिल : सात समंदर पार आकर लिए सात वचन और सात फेरे, देखें शादी का Video

देसी बॉय पर आया गोरी मेम का दिल : सात समंदर पार आकर लिए सात वचन और सात फेरे, देखें शादी का Video

Sehore News. कुरावर के नीतेश और फ्रांस की ओरियन हिंदू रीति रिवाजों के साथ शादी के बंधन में बंध गए.

Sehore News. कुरावर के नीतेश और फ्रांस की ओरियन हिंदू रीति रिवाजों के साथ शादी के बंधन में बंध गए.

Interesting Marriage : ओरियन और उनके माता पिता भाई बहन सहित कुल 26 विदेशी मेहमान भारत आए.और सीहोर के इछावर रोड स्थित ग् ...अधिक पढ़ें

सीहोर. कहते हैं जोड़ियां ऊपर से बनती हैं. ऐसे में दूल्हा भारत का हो और दुल्हन सात समंदर पार फ्रांस जैसे आधुनिक देश की तो इस बात पर यकीन हो जाता है. ऐसी ही एक जोड़ी बनी जिसमें दूल्हा ठेठ कुरावर का और दुल्हन फ्रांस की. शादी मध्य प्रदेश के सीहोर में पूरे हिंदू रीति रिवाजों के साथ हुई. घराती यानि दुल्हन के फिरंगी नाते रिश्तेदार भी पारंपरिक भारतीय वेशभूषा में बने ठने नजर आए. भारतीय रीति रिवाजों का उन्होंने भी खूब आनंद लिया. फ्रांसीसी दंपति ने अपनी बेटी का कन्यादान भी किया.

दूल्हा नीतेश अग्रवाल मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले की एक छोटी सी जगह कुरावर का रहने वाला है. उसकी जीवन संगिनी बनीं फ्रांस की ओरियन. शादी पूरी तरह हिंदू रीति रिवाज से हुई. बारात में बाराती घराती सब झूमकर नाचे. कन्यादान भी हुआ और वर वधु ने सात वचन भी लिए.

ऐसे मिले नीतेश और ओरियन
नीतेश अग्रवाल कम्प्यूटर साइंस से बैचलर ऑफ साइंस करने 2013 में  कनाडा गए थे. उसके बाद उन्होंने कनाडा में ही रहकर कानून यानि एलएलबी की पढ़ाई पूरी की. उसी दौरान वहां उनकी मुलाकात फ्रांस की रहने वाली की ओरियन से हुई. ओरियन भी वहां पढ़ाई करने आयी थीं. दोनों की दोस्ती हुई. दोस्ती प्यार में बदली और प्यार अब जीवन भर के साथ में बदल गया." isDesktop="true" id="4984235" >

मियां बीवी राजी तो…
विदेशी लड़की से शादी करना आसान नहीं था. नीतेश ने इस रिश्ते के लिए अपने परिवार से बात की. उन्हें शादी के लिए राजी किया. उधर ओरियन ने फ्रांस में बैठे अपने परिजनों को तैयार किया. इस अनूठे रिश्ते की खूबसूरती यह रही कि ओरियन भारतीय संस्कृति और रीति रिवाज के साथ भारत आकर अपना विवाह करना चाहती थीं.

फ्रांस से आए 26 मेहमान
दोनों के परिवार शादी के लिए तैयार हुए तो शहनाई बजने की तारीख तय हुई. ओरियन और उनके माता पिता भाई बहन सहित कुल 26 विदेशी मेहमान भारत आए.और सीहोर के इछावर रोड स्थित ग्रेसिस रिसोर्ट में शादी की हुई. मेंहदी, तेल की रस्में हुईं और बन्ना बन्नी गाए गए. इस शादी के लिए जयपुर की एक बड़ी इवेंट मैनेजमेंट कंपनी ने भव्यता के साथ सारे इंतजाम किए. इन विदेशी मेहमानों ने पूर्णतः भारतीय परिधान पहनकर शादी की हर रस्म को संजीदगी के साथ निभाया. जब बारी आई नृत्य सुर संगीत की तो उसमें भी यह गोरे बाबू और गोरी मेम कहीं से भी कमतर नहीं दिखे.

झूमकर नाची विलायती मेम
जब दूल्हे नीतेश अपनी बारात लेकर विवाह स्थल पहुंचा तो फ्रांस के वधु पक्ष के लोग एकदम भारतीय परिवेश में दरवाजे पर हाथ जोड़े एक साथ नजर आए.गेंदे की माला पहनाकर बारातियों का स्वागत किया गया. रंगीन आतिशबाजी चलाकर शादी का जश्न मनाया गया. यही नहीं पूरे विवाह समारोह में मालवा का प्रसिद्ध दाल बाफले, गर्मागर्म कचौड़ियां और हर बार मीनू में लज्जतद्वार पकवान शामिल किए गए.

फ्रांसीसी दुल्हन ने लिए सात वचन
इसके  बाद बारी आई सात फेरों की तो वैदिक मंत्रों के बीच दूल्हा दुल्हन ने भारतीय सनातन संस्कृति के रंगों में रंगे माहौल में संस्कृत मंत्रोच्चार के बीच फेरे लिए.पंडित जी द्वारा पढ़े जा रहे मन्त्रों का एक दुभाषिया उनकी भाषा में अनुवाद करके गोरी दुल्हन ओरियन को बताता जा रहा था. जब पंडित ने कहा कि आपको विवाह स्वीकार है तो एक्सेप्ट कहिए तो ओरियन ने जिद करके कहा कि मैं हिंदी में ही स्वीकार बोलूंगी. इस विवाह में जो भी शामिल हुआ उसने दो संस्कृतियों के इस अनूठे मिलन को यादगार माना.

Tags: Love marriage, Sehore news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें