• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • एनेस्थिसिया विशेषज्ञ न होने से घंटों तड़पती रही गर्भवती महिलाएं, भोपाल रेफर कर डॉक्टर ने झाड़ा पल्ला

एनेस्थिसिया विशेषज्ञ न होने से घंटों तड़पती रही गर्भवती महिलाएं, भोपाल रेफर कर डॉक्टर ने झाड़ा पल्ला

जिला अस्पताल के मेटरनिटी वार्ड में दो गर्भवती महिलाएं प्रसव के लिए भर्ती हुईं. डॉक्टरों ने बताया कि उन्हें ऑपरेशन की जरुरत पड़ सकती है. लेकिन ऑपरेशन करने के लिए एनेस्थिसिया विशेषज्ञ की मौजूदगी जरूरी थी और अस्पताल में विशेषज्ञ न होने की वजह से ऑपरेशन किया जाना मुमकिन नहीं हो सका. नतीजतन दोनों महिलाएं घंटों दर्द से कराहती रहीं.

  • Share this:
मध्य प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बावजूद सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं में लापरवाही पर रोक नहीं लग पा रही है . इसका ताजा उदाहरण सीहोर का जिला अस्पताल है. जहां प्रसव के लिए आई दो महिलाएं 10 घंटे तड़पती रहीं. एनेस्थिसिया विशेषज्ञ के नहीं आने के चलते इन प्रसुताओं को तड़पता छोड़कर अस्पताल प्रशासन ने अपना पल्ला झाड़ लिया. घंटों इंतजार के बाद भी जब डॉक्टर नहीं आए तो परिजनों ने जमकर हंगामा किया. इसके बाद अस्पताल की महिला डॉक्टर ने खुद को बजाने के लिए मरीज को भोपाल रेफर कर दिया.

दरअसल, जिला अस्पताल के मेटरनिटी वार्ड में दो गर्भवती महिलाएं प्रसव के लिए भर्ती हुईं. डॉक्टरों ने बताया कि उन्हें ऑपरेशन की जरुरत पड़ सकती है. लेकिन ऑपरेशन करने के लिए एनेस्थिसिया विशेषज्ञ की मौजूदगी जरूरी थी और अस्पताल में विशेषज्ञ न होने की वजह से ऑपरेशन किया जाना मुमकिन नहीं हो सका. नतीजतन दोनों महिलाएं घंटों दर्द से कराहती रहीं.

महिलाओं की स्थिति देखकर उनके परिजनों का गुस्सा फूट पड़ा और उन्होंने अस्पताल में जमकर बवाल काटा. हंगामें की सूचना मिलने पर स्थानीय जनप्रतिनिधि भी मौके पर पहुंच गए और व्यवस्था के प्रति नाराजगी जताई.

सिविल सर्जन से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने स्टाफ की कमी का हवाला देकर मामले से पल्ला झाड़ लिया.

ये भी पढ़ें- सागर: बुंदेलखंड मेडिकल कालेज में लापरवाही पड़ी भारी, लेडी डॉक्टर निलंबित

ये भी पढ़ें- कमलनाथ सरकार का प्लान, अब 68 साल होगी डॉक्टरों की रिटायरमेंट उम्र!

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन