कांतिलाल भूरिया का बड़ा बयान, बोले-शिवराज नकली मामा साबित, मैं हूं असली


आने वाले चुनावों में जनता बीजेपी को सबक सिखाएगी- भूरिया
आने वाले चुनावों में जनता बीजेपी को सबक सिखाएगी- भूरिया

झाबुआ के नवनिर्वाचित विधायक और पूर्व केन्द्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया (Kantilal Bhuria) अब बीजेपी पर जमकर निशाना साध रहे हैं. उन्‍होंने पूर्व मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) को नकली मामा करार दिया है.

  • Share this:
सीहोर. मध्‍य प्रदेश की झाबुआ विधानसभा (Jhabua Assembly) सीट पर हुआ उपचुनाव सत्‍तारूढ़ कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के लिए साख की लड़ाई था, जिसमें मुख्‍यमंत्री कमलनाथ (Chief Minister Kamal Nath) के नेतृत्‍व के दम पर कांग्रेस से बाजी मार ली. इस दमदार जीत के बाद कांग्रेस के नवनिर्वाचित विधायक और पूर्व केन्द्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया (Kantilal Bhuria) अब बीजेपी पर जमकर निशाना साध रहे हैं. जिला कांग्रेस कमेटी के आग्रह पर सीहोर में थोड़े समय के लिए रुके नवनिर्वाचित विधायक ने स्थानीय मीडिया से चर्चा में कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कम समय में जो प्रदेश में काम किए हैं, उन्हें जनता ने स्वीकार किया है. साथ ही भूरिया ने पूर्व मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) को नकली मामा बताया है.

भाजपा पर साधा निशाना
जबकि भूरिया ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि उनकी जीत के बाद अब बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय को इस्तीफ़ा दे देना चाहिए. साथ ही उन्‍होंने कहा कि बीजेपी के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान को भी जनता ने नकारा दिया है. बीजेपी चुनावों में भारत-पाकिस्तान की बात करते हैं और चुनाव के बाद भूल जाते हैं. आने वाले चुनावों में जनता बीजेपी को सबक सिखाएगी.

शिवराज को लेकर कही ये बात
बीजेपी के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि वह खुद को मामा कहते हैं, लेकिन असली मामा की पहचान अब हो गई. झाबुआ चुनाव में जनता ने असली मामा को जिताया और नकली को हराया है.



यही नहीं, महाराष्ट्र में शिवसेना और बीजेपी के बीच चल रही रार पर उन्होंने कहा कि हाईकमान स्तर पर चर्चा चल रही है. भाजपा की उल्‍टी गिनती शुरू हो चुकी है और इस पार्टी का काम सिर्फ झूठ बोलना है. अब पूरे प्रदेश में हमारे सीएम ने कर्जा माफ़ किया है और पेशन बढ़ाई है. यही नहीं, बेटियों के विवाह में हमारी सरकार ने 51 हजार की राशि कर दी.

ये भी पढ़ें -
इंदौर सड़क हादसा: मृतक की क्षतिग्रस्त कार से सेना की वर्दी और रक्षा मंत्रालय के दस्तावेज मिलने से मची खलबली

सरदार पटेल की जयंती पर रन फ़ॉर यूनिटी में नहीं आए महापौर,कलेक्टर और नगर निगम कमिश्नर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज