होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /19 साल का सरगना बिहार से चला रहा था बड़ा गिरोह, अब तक छाप डाले 52 जाली जन्म प्रमाण पत्र

19 साल का सरगना बिहार से चला रहा था बड़ा गिरोह, अब तक छाप डाले 52 जाली जन्म प्रमाण पत्र

गिरोह अपने महंगे शौक पूरे करने के लिए जाली जन्म प्रमाण पत्र बनाने का गोरखधंधा करने लगा था.

गिरोह अपने महंगे शौक पूरे करने के लिए जाली जन्म प्रमाण पत्र बनाने का गोरखधंधा करने लगा था.

Sehore Crime News. नसरुल्लागंज पुलिस ने इस अंतर्राज्यीय गिरोह को पकड़ा तो पता चला कि गिरोह का सरगना महज 19 साल का है. वो ...अधिक पढ़ें

सीहोर. सीहोर जिले की नसरुल्लागंज पुलिस ने जाली जन्म प्रमाण पत्र बनाने वाले बड़े गिरोह का भांडाफोड़ किया है. गिरोह का सरगना 19 साल का है और बिहार का रहने वाला है. गिरोह अब तक 52 हजार जाली प्रमाण पत्र बना चुका है. पुलिस ने बिहार, यूपी और एमपी से 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

जन्म प्रमाण पत्र बनाने की प्रक्रिया प्रदेश में काफी सरल और व्यवस्थित है. मगर कुछ शातिर आरोपियों ने इस व्यवस्था में भी सेंध लगा दिया. मध्य प्रदेश में जो सरकारी जन्म प्रमाण पत्र जारी किए जाते हैं हूबहू वैसे ही प्रमाण पत्र जारी कर दिए गए. वो भी एक या दो नहीं बल्कि पूरे 52 हजार. इसके बदले गिरोह तबियत से पैसा कमाकर ऐश कर रहा था. ऐसे 5 आरोपियों को प्रदेश और देश के अलग अलग राज्यों से सीहोर जिले की नसरूल्लागंज पुलिस ने गिरफ्तार किया.

महंगे शौक पूरे करने के लिए धोखाधड़ी
सीहोर की नसरूल्लागंज थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि कई ग्रामीणों के जन्म प्रमाण पत्र नकली मिल रहे हैं. इस आधार पर पुलिस ने अपना मुखबिर तंत्र मजबूती से फैलाया. खबर सही निकली. मालूम पड़ा कि नसरूल्लागंज के टीकामोड में एक युवक इस तरह के जन्म प्रमाण पत्र बना रहा है. वो दुकान पर खुद को एमपी ऑन लाइन से जुड़ा बताकर ग्रामीणों को ठग रहा है. बस इसे ट्रेस करते ही पुलिस हरकत में आई और धीरे धीरे इस गोरख धंधे के तार अन्यंत्र राज्यों से जुड़े मिले.

आपके शहर से (मेरठ)

ये भी पढ़ें- नवरात्रि : दो बहनों का वास देवास जहां दिन में 3 रूप बदलती हैं देवी, सती के अंग यहां गिरे थे…
सरगना 19 साल का
नसरुल्लागंज पुलिस ने इस अंतर्राज्यीय गिरोह को पकड़ा तो पता चला कि गिरोह का सरगना महज 19 साल का है. वो बिहार के सारण का रहने वाला है. सरगना सहित 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया. इन लोगों ने बताया कि वह  अपने  महंगे शौक पूरा करने और रातोंरात अमीर बनने के लिए इस रैकेट से जुड़ते गए और अब तक लगभग 53 हजार नकली जन्म प्रमाण पत्र जारी कर चुके हैं.

गिरोह के सदस्य
इस गिरोह के पास से पुलिस ने एक एलईडी , 5 लेपटॉप , 3 कलर प्रिंटर , 48 फर्जी प्रमाण पत्र की हार्ड कॉपी बरामद की. गिरोह के  पकड़े गए आरोपियों में  बिहार के सारण जिले का 19 साल का नवीन कुमार सिंह, सीहोर के नसरूल्लागंज के टीकामोड गांव का 26 साल का दीपक मीणा , बालाघाट के बारासिवनी  का 30 साल का शशांक गिरी और उत्तरप्रदेश के मेरठ जिले के 17 साल के दो नाबालिग   शामिल हैं.

Tags: Birth, Madhya pradesh latest news, Sehore news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें