सीहोर में बाढ़ : गर्भवती महिलाओं को खाट पर उठाकर डिलिवरी के लिए अस्पताल पहुंचाया

Pradeep Singh Chouhan | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 11, 2019, 12:42 PM IST
सीहोर में बाढ़ : गर्भवती महिलाओं को खाट पर उठाकर डिलिवरी के लिए अस्पताल पहुंचाया
नदी उफान पर थी ऐसे में गर्भवती महिला को खाट पर डालकर ले जाना पड़ा

मूसलाधार बारिश के कारण सीहोर में मेनरोड पर पानी भरा हुआ है. कोतवाली कैंपस में भी पानी ही पानी है. मोहर्रम के ताजियों को पन्नी बांधकर जैसे तैसे निकाला गया

  • Share this:
सीहोर. सीहोर (SEHORE)में बाढ़ (FLOOD)से हालात इतने ख़राब हैं कि लोगों का जीना मुश्किल हो रहा है. ऐसे हालात में दो गांव में कमर तक पानी के बीच गर्भवती महिलाओं (PREGNANT WOMAN)को खाट पर डालकर डिलिवरी के लिए जैसे-तैसे अस्पताल पहुंचाया. गांव के युवकों ने जान पर खेलकर उनकी ज़िंदगी बचायी.

ज़िले की सभी नदियां उफान पर हैं. जनजीवन ठप्प है. सड़क संपर्क टूटा हुआ है. इन कठिन हालात में लोगों ने ख़तरा मोल लेकर दो गर्भवती महिलाओं की जान बचायी. पहला मामला आष्टा के खामलिया गांव का है. यहां एक गर्भवती महिला को डिलीवरी के लिए अस्पताल जाना था.लेकिन इतनी बारिश हुई कि गांव में कमर तक पानी भर गया. इस मुश्किल घड़ी में गांव के नवयुवक सामने आए. उन्होंने महिला को खाट पर बैठाया और फिर अपने कंधों पर खाट उठाकर बहते पानी के बीच 108 वाहन तक पहुंचाया.

युवकों ने साहस दिखाया और महिला को खाट पर नदी पार करायी


जान की बाजी-दूसरा मामला भी ज़िले की आष्टा तहसील का ही है. यहां बरखेड़ा हसन में गर्भवती महिला को अस्पताल ले जाने के लिय जननी एक्सप्रेस तो गांव पहुंच गयी लेकिन गांव और कॉलोनी के बीच एक बरसाती नाला उफान मार रहा था. गांव का तहसील मुख्यालय से संपर्क टूट गया था. महिला के लिए 108 वाहन तक पहुंचने के लिए नाला पार करना नामुमकिन था. यहां भी गांव के युवक मदद के लिए आए और उसे खटिया पर लेटाकर नाला पार करवाया.

कोलार के सभी 8 गेट खुले
सीहोर ज़िले में लगातार भारी बारिश के कारण नर्मदा, पार्वती, सीप, अंबर,नेवज सहित सभी नदियां खतरे के निशान के पास बह रही हैं.कोलार डैम में एकाएक जलस्तर बढ़ने के कारण पहली बार डैम के सभी आठों गेट खोल दिए  गए.कलेक्टर अजय गुप्ता और एसपी शशीन्द्र चौहान ने नर्मदा के तराई वाले इलाकों का जायज़ा लिया और राहत-बचाव के निर्देश दिए.

Loading...

52 इंच बारिश
सीहोर ज़िले में इस बार बारिश ने रिकॉर्ड बना दिया. इस साल अब तक यहां 56 इंच पानी बरस चुका है. कोलार डैम के सभी गेट खोलने के कारण आस पास के 34 गांवों में बाढ़ के हालात हैं.
मेन रोड पर पानी ही पानी मूसलाधार बारिश के कारण सीहोर में मेनरोड पर पानी भरा हुआ है. कोतवाली कैंपस में भी पानी ही पानी है. मोहर्रम के ताजियों को पन्नी बांधकर जैसे तैसे निकाला गया.पूरे बाज़ार में  दो से ढाई फीट भरा हुआ है.

ये भी पढ़ें-एमपी कांग्रेस में राहुल की जगह अब लागू होगा सोनिया गांधी फॉर्मूला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सीहोर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 11:53 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...