मिसाल: सड़क पर मिला 40 हजार रुपये से भरा पर्स, लौटाने घर पहुंच गया प्रद्युम्न

Pradeep Chouhan | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: September 16, 2017, 10:14 PM IST
मिसाल: सड़क पर मिला 40 हजार रुपये से भरा पर्स, लौटाने घर पहुंच गया प्रद्युम्न
अपने दोस्तों के साथ प्रद्युम्न.
Pradeep Chouhan | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: September 16, 2017, 10:14 PM IST
ईमानदारी आज भी जिन्दा है. इस उक्ति को चरितार्थ किया है सीहोर के कक्षा 10वीं के छात्र प्रद्युम्न त्यागी ने. प्रद्युम्न ने शहर के रास्ते में पड़े मिले 35 से 40 हजार रुपयों से भरे एक पर्स को न केवल वापस किया, बल्कि पर्स से मिले कार्ड के पते पर देर रात पहुंचकर पर्स लौटाया.

सीहोर के केंद्रीय विद्यालय की कक्षा 10वीं के छात्र ने इस ईमानदारी की मिसाल को प्रस्तुत कर सभी का दिल जीत लिया है. आज पूरे स्कूल को उसके कार्य पर नाज है. खुद प्रद्युम्न का कहना है कि यह सभी का कर्तव्य है कि उसका अपना आचरण शुद्ध हो. पर्स के वास्तविक मालिक की आंखों में खुशी के आंसू देखकर मन प्रसन्न  हो गया.

आज केंद्रीय विद्यालय भी अपने इस छात्र की मिसाल को विद्यालय का गौरव मान रहा है. केंद्रीय विद्यालय सीहोर के प्रभारी प्राचार्य देवेन्द्र राय ने कहा कि प्रद्युम्न ने उनका और स्कूल का मान बढ़ाया है.

मूलतः मोटर साइकिल मिस्त्री क़स्बा निवासी अयाज उर्फ़ राजा के लिए यह राशि बहुत बड़ी थी. उन्होंने बैंक की क़िस्त भरने के लिए इस राशि का जैसे तैसे प्रबंध किया था. राजा को कोई उम्मीद नहीं थी कि खोया पर्स घर वापस आकर कोई उन्हें देगा. राजा ने प्रद्युम्न को अल्लाह का नेक बन्दा बतलाया. उन्होंने कहा कि प्रद्युम्न उनके लिए किसी फरिश्ते से कम नहीं है. उन्होंने को उम्मीद ही छोड़ दी थी कि उनका पैसा वापस मिलेगा.

 
First published: September 16, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर