अपना शहर चुनें

States

पत्नी से अवैध संबंध से चलते की थी दोस्‍त की हत्‍या, दो साल बाद खुला राज

हत्‍या के मामले में गिरफ्तार दोनों आरोपी.
हत्‍या के मामले में गिरफ्तार दोनों आरोपी.

सुखराम एक दिन किसी काम से बाहर गया था. जब वह लौटा तो उसने अपनी पत्नी को परमू के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया और गुस्से में आगबबूला हो गया. उसने परमू की उसी के गमछे से गला घोंटकर हत्या कर दी.

  • Share this:
मध्‍यप्रदेश में सिवनी जिले के लखनादौन थाना अंतर्गत गणेशगंज ग्राम में करीब दो वर्ष पूर्व हुए अंधे हत्याकांड का पुलिस ने आखिर कर पर्दाफाश कर दिया है. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए हत्या करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पत्‍नी से अवैध संबंधों के चलते आरोपी ने अपने दोस्‍त की हत्‍या कर दी थी और अपने बहनोई की मदद से शव को नदी किनारे रेत में दफना दिया था.

पुलिस ने बताया कि हत्‍या के मुख्य आरोपी सुखराम और मृतक परमू उर्फ प्रभू काम करने के दौरान नागपुर मे मिले थे. परमू सिवनी जिले के धनौरा का रहने वाला था इसलिए दोनों मे दोस्ती हो गई. इस दोस्‍ती के चलते सुखराम मार्च 2017 में परमू को अपने घर गणेशगंज रहने के लिए ले आया था. इसी दरमियान आरोपी सुखराम की पत्नी के साथ मृतक परमू के अवैध संबंध बन गए. इसकी भनक सुखराम को लग चुकी थी.

सुखराम एक दिन किसी काम से बाहर गया था. जब वह लौटा तो उसने अपनी पत्नी को परमू के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया और गुस्से में आगबबूला हो गया. उसने परमू की उसी के गमछे से गला घोंटकर हत्या कर दी. इसके बाद आरोपी ने पत्नी को भी धमकाया कि यदि उसने इस बात का जिक्र किसी से किया तो वह उसकी भी हत्या कर देगा. पत्नी ने अपना मुंह बंद कर लिया और अपने मायके चली गई.



हत्या के बाद आरोपी ने परमू के शव को दिन भर अपने घर में रखा. देर शाम उसने अपने बहनोई रामसिंह इनवाती से संपर्क किया और पूरी घटना बताई. देर रात के अंधेरे में दोनों ने मिलकर शव को घर से कुछ ही दूर स्थित बिजना नदी के पुल ले नीचे रेत में दफना दिया और घर बंद कर फरार हो गया. करीब दो हफ्ते बाद कुत्तों ने शव को बाहर निकाल लिया. लोगों ने जब देखा तो लखनादौन पुलिस को सूचना दी.
इसके बाद पुलिस ने जांच-पड़ताल शुरू की. लंबी तफ्तीश के बाद आखिरकार मुखबिर से इस वारदात का क्लू मिला. इस बीच आरोपी अपने घर पर वापस रहने आ गया. पुलिस ने पहले संदेह के आधार पर गिरफ्तार कर पूछताछ की तो आरोपी ने अपना जुर्म कबूल करते हुए हत्या के कारणों का खुलासा किया. पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने यह भी खुलासा किया है कि मृतक परमू उर्फ प्रभु पर भी सिवनी जिले के धनोरा थाने में हत्या का मामला दर्ज था. वह सुखराम के घर में रहकर फरारी काट रहा था. इसी दौरान सुखराम की पत्नी से उसके अवैध संबंध बन गए जो हत्या की वजह बने.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज