अपना शहर चुनें

States

सिवनी: बिल नहीं चुकाया तो अस्पताल ने मरीज़ से मिलने पर लगाई रोक

विनोद सतनामी, मरीज का पति
फोटो- ईटीवी
विनोद सतनामी, मरीज का पति फोटो- ईटीवी

मध्य प्रदेश के सिवनी जिले में जिंदल अस्पताल में भर्ती मरीज के परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर गंभीर आरोप लगाये हैं. मरीज के परिजनों का कहना है कि पूरा बिल न भरने के कारण अस्पताल प्रबंधन उन्हें पिछले दो दिनों से मरीज से मिलने भी नहीं दे रहा है.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के सिवनी जिले में जिंदल अस्पताल में भर्ती मरीज के परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर गंभीर आरोप लगाए हैं.  मरीज के परिजनों का कहना है कि पूरा बिल न भरने के कारण अस्पताल प्रबंधन उन्हें पिछले दो दिनों से मरीज से मिलने भी नहीं दे रहा है. मरीज की हालत कैसी है इस बारे में भी परिजनों को कोई जानकारी नहीं दी जा रही है. हालांकि अस्पताल प्रबंधन सभी आरोपों को पूरी तरह से निराधार बता रहा है.

जिंदल अस्पताल में भर्ती संमत्री बाई के पति विनोद का कहना है कि उन्होंने उल्टी दस्त की शिकायत के बाद अपनी पत्नी को अस्पताल में भर्ती करवाया था. अस्पताल में पहले दो दिन तक तो सब ठीक रहा, लेकिन जब उनके पास पैसे खत्म हो गए तो उन्हें अपनी पत्नी से मिलने से ही रोक दिया गया है.

अस्पताल के प्रबंधक सुनील अग्रवाल इन आरोपों को सिरे से खारिज़ कर रहे हैं. उनका कहना है कि मरीज़ हिपोटिक कोमा में हैं. अस्पताल का बिल करीब 40 हजार रुपए हो चुका है लेकिन इसे लेकर परिजनों को मरीज़ से मिलने से रोकने की बात कतई सही नहीं है. अगर परिजन चाहें तो वे बाद में भी अस्पताल का बिल चुका सकते हैं.



मरीज़ के परिजन अस्पताल प्रबंधन की बात से संतुष्ट नहीं हैं. नाराज परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन के रवैये की शिकायत पुलिस में भी की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज