गौरक्षकों की गुंडागर्दी मामले में सभी 5 आरोपी गिरफ्तार, भेजे गए जेल

सिवनी जिले में गोरक्षकों की गुंडागर्दी का मामला सामने आया है. पुलिस ने मामले में सभी पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया है.

Azhar Khan | News18 Madhya Pradesh
Updated: May 25, 2019, 5:15 PM IST
गौरक्षकों की गुंडागर्दी मामले में सभी 5 आरोपी गिरफ्तार, भेजे गए जेल
सिवनी में गोरक्षकों की गुंडागर्दी का वीडियो वायरल, पुलिस ने 5 को दबोचा
Azhar Khan | News18 Madhya Pradesh
Updated: May 25, 2019, 5:15 PM IST
मध्य प्रदेश के सिवनी जिले में गौरक्षकों की गुंडागर्दी का मामला सामने आया है. पुलिस ने मामले में सभी पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया है. बता दें कि पुलिस ने मारपीट का वीडियो सामने आने के बाद कार्रवाई की है.

दरअसल, सिवनी के डूंडा सिवनी थाना अंतर्गत गोरक्षकों की गुंडागर्दी के मामले में पुलिस ने 3 लोगों के साथ मारपीट करने वाले सभी 5 आरोपियों को उनके ठिकाने से धर दबोच लिया है. मारपीट का सनसनीखेज वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने इस पूरी कार्रवाई को अंजाम दिया है. वीडियो के आधार पर पहचान कर पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर न्यायलय में पेश कर दिया. न्यालय में पेश करने के बाद वहां से पुलिस ने सभी आरोपियों को गोपनीय रूप से सीधे जेल भेज दिया. मामले की जानकारी सिवनी एसपी ललित शाक्यवार ने दी है.

क्या है मामला?

बताया जा रहा है कि दो दिन पहले ऑटो के जरिए मांस ले जा रहे दो युवकों और महिला को कथित तौर पर श्रीराम सेना का अध्‍यक्ष शुभम बघेल और उसके साथियों ने रोका और पूछताछ करने लगे. ऑटो में मांस देखकर उन्होंने गोमांस का शक जाहिर किया और बिना पुलिस को सूचना दिए महिला समेत दोनों युवकों की पेड़ से बांधकर पिटाई की.

ये भी पढृें: मध्य प्रदेश: गोमांस के शक पर एक महिला समेत 2 मुस्लिम युवकों की लाठी-डंडों से पिटाई

घटना की वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने मारपीट करने वाले पांच आयोपियों को हिरासत मे ले लिया. पुलिस ने एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत में बताया कि शुभम को फरवरी में ही जिला बदर कर दिया गया था और पहले भी गोमांस के शक में पिटाई के मामलों में उसका नाम आ चुका है.

सोशल मीडिया पर वायरल हुई वीडियो में भी स्पष्ट नज़र आ रहा है कि ड्राइवर, एक अन्य युवक और महिला को न सिर्फ पीटा जा रहा है बल्कि उनसे 'जय श्रीराम' के नारे भी लगवाए जा रहे हैं. हालांकि ड्राइवर और अन्य पीड़ित लगातार उनसे छोड़ दिए जाने की विनती कर रहे हैं. इस दौरान वहां भीड़ भी इकट्ठी होती है लेकिन कोई उनकी मदद नहीं कर रहा था. इस बेरहमी की इंतेहा तब हो गई जब महिला को उसी के साथ जा रहे युवक के हाथों चप्पल से पिटवाया.
ये भी पढ़ें:- राहुल के इस्तीफे पर बयानबाजी जारी, परिवहन मंत्री बोले- गांधी परिवार कांग्रेस की आत्मा है

ये भी पढ़ें:- बंगाल को जम्मू-कश्मीर होने से बचाना चाहता हूं : कैलाश विजयवर्गीय

ये भी पढ़ें:- MP: कर्ज में डूबे परिवार ने कोल्ड ड्रिंक में जहर मिलाकर पिया, 3 की मौत 

ये भी पढ़ें:- कांग्रेस की हार पर अब दिग्विजय सिंह के भाई ने उठायी उंगली
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...