अपना शहर चुनें

States

सिवनी : थाने में हुई प्रेमी युगल की शादी और पुलिस वाले बने बाराती

बंडोल थाना प्रभारी ने प्रेमी युगल के परिवार को शादी के राजी किया.
बंडोल थाना प्रभारी ने प्रेमी युगल के परिवार को शादी के राजी किया.

लड़के के कम पड़े लिखे होने के कारण लड़की के परिवार वालों ने लड़के का रिश्ता ठुकरा दिया था. लेकिन दोनों प्रेमियों के बीच प्रेम परवान चढ़ चुका था.इसलिए पुलिस ने दोनों को मिलवा दिया.

  • Share this:
सिवनी. मध्य प्रदेश (MP) के सिवनी में मज़ेदार शादी हुई. ये शादी किसी मंडप या मंदिर में नहीं बल्कि पुलिस (Police) थाने में हुई और इसमें बाराती और घराती पुलिस वाले बने. आइए आगे पढ़िए ये दिलचस्प खबर

सिवनी पुलिस ने सोशल पुलिसिंग की एक मिसाल पेश की है. थाने की रोज़मर्रा की माथापच्ची, अपराध-अपराधियों और रोजनामचा भरने से अलग शादी करायी. दरअसल ये एक प्रेमी जोड़े की शादी थी, जिनके परिवार वाले इस रिश्ते के लिए तैयार नहीं थे. पुलिस ने प्रेमी जोड़े को शादी के बंधन में तो बांध ही दिया दूरियां बनाए बैठे उनके परिवार वालों को भी मिलवा दिया.

राजी नहीं थे परिवार
सिवनी के बंडोल थाने अंतर्गत सारसडोल गांव में रहने वाले युवक शेष राम बरमैया का बलारपुर गांव की युवती प्रार्थना बरमैया के साथ काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था. युवक युवती एक ही समाज के हैं. उसके बाद भी परिवार वाले दोनों की शादी के लिए राजी नही थे. लड़के के कम पड़े लिखे होने के कारण लड़की के परिवार वालों ने लड़के का रिश्ता ठुकरा दिया था. लेकिन दोनों प्रेमियों के बीच प्रेम परवान चढ़ चुका था.
घर छोड़ गयी थी लड़की


युवती प्रार्थना ने अपने परिवार वालों को राज़ी करने की काफी कोशिश की. लेकिन वो इस रिश्ते के लिए तैयार ही नहीं थे. जब हर कोशिश नाकाम हो गयी तो हार कर प्रार्थना एक हफ्ते पहले अपने परिवार वालों के खिलाफ लड़के के पास चली गई थी. इसके बाद लड़की के पिता ने बंडोल थाने पहुंचकर युवक के खिलाफ शिकायत दर्ज करा दी थी.

ऐसे बनी बात
बंडोल थाना प्रभारी दिलीप पंचेश्वर ने मामले को समझ कर दोनों परिवार के लोगों को थाने में बुलाया और समझाया. उनकी पहल काम आयी. दोनों परिवारों की नाराजगी दूर हुई या नहीं ये तो नहीं कहा जा सकता. लेकिन दोनों के परिवार शादी के लिए तैयार हो गए और थाना परिसर में ही शादी कराने के लिए कहा. बस उसके बाद बंडोल थाना के स्टाफ ने आनन-फानन में शादी की तैयारी की और शेष राम और प्रार्थना की शादी करा दी. थाना परिसर स्थित मंदिर में विवाह सम्पन्न कराया गया. शादी में थाने का पूरा स्टाफ बाराती बनकर परिवार वालों के साथ मौके पर मौजूद रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज