मध्य प्रदेश: गोमांस के शक पर एक महिला समेत 2 मुस्लिम युवकों की लाठी-डंडों से पिटाई
Seoni News in Hindi

कथित गौरक्षकों ने एक महिला और दो मुस्लिम युवकों की न सिर्फ लाठी-डंडों से पिटाई की बल्कि उनसे 'जय श्रीराम' के नारे भी लगवाए.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
मध्य प्रदेश के सिवनी में कथित गौरक्षकों की गुंडागर्दी का मामला सामने आया है. ऑटो में मांस ले जा रहे दो युवकों और एक महिला को इन कथित गौरक्षकों ने लाठी-डंडों से पीटा. इस घटना की वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. मिली जानकारी के मुताबिक मुस्लिम युवकों को पीटने वाला शख्स सिवनी में श्रीराम सेना का अध्‍यक्ष शुभम बघेल है. शुभम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

क्या है मामला?
बताया जा रहा है कि दो दिन पहले ऑटो के जरिए मांस ले जा रहे दो युवकों और के महिला को कथित तौर पर शुभम और उसके साथियों ने रोका और पूछताछ करने लगे. ऑटो में मांस देखकर उन्होंने गोमांस का शक जाहिर किया और बिना पुलिस को सूचना दिए महिला समेत दोनों युवकों की पेड़ से बांधकर पिटाई की.

घटना की वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने मारपीट करने वाले पांच आयोपियों को हिरासत में ले लिया है. पुलिस ने एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत में बताया कि शुभम को फरवरी में ही जिला बदर कर दिया गया था और पहले भी गोमांस के शक में पिटाई के मामलों में उसका नाम आ चुका है.



सोशल मीडिया पर वायरल हुई वीडियो में भी स्पष्ट नज़र आ रहा है कि ड्राइवर, एक अन्य युवक और महिला को न सिर्फ पीटा जा रहा है बल्कि उनसे 'जय श्रीराम' के नारे भी लगवाए जा रहे हैं. हालांकि ड्राइवर और अन्य पीड़ित लगातार उनसे छोड़ दिए जाने की विनती कर रहे हैं. इस दौरान वहां भीड़ भी इकट्ठी होती है लेकिन कोई उनकी मदद नहीं कर रहा था. इस बेरहमी की इंतेहा तब हो गई जब महिला को उसी के साथ जा रहे युवक के हाथों चप्पल से पिटवाया.



ये भी पढ़ें-जिस सीट पर बेटे चुनाव लड़े, 39 साल पहले पिता थे आमने-सामने

इस घटना का वीडियो शेयर कर एआईएमआईएम अध्‍यक्ष ओवैसी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है. उन्‍होंने कहा, 'मोदी के वोटरों द्वारा पैदा किए गए निगरानी के समिति के सदस्‍य इस तरह का व्‍यवहार मुस्लिमों के साथ करते हैं. न्‍यू इंडिया में स्‍वागत है जो समावेशी होगा और जैसाकि पीएम ने कहा है कि धर्मनिरपेक्षता का नकाब....'



मौके पर मौजूद लोगों ने भी इस बात की सूचना पुलिस को देनी ज़रूरी नहीं समझी. सब तमाशबीन बने रहे. जब पुलिस को इसकी ख़बर लगी तब उसने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया. बाद में इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.

ये भी पढ़ें- क्या इस बार जबलपुर को केंद्रीय मंत्रिमंडल में मिलेगी जगह?

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

LIVE कवरेज देखने के लिए क्लिक करें न्यूज18 मध्य प्रदेशछत्तीसगढ़ लाइव टीवी


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading