Home /News /madhya-pradesh /

शबाना के बेबाक बोल- सरकार की आलोचना की तो राष्ट्रविरोधी कहलाओगे

शबाना के बेबाक बोल- सरकार की आलोचना की तो राष्ट्रविरोधी कहलाओगे

 शबाना ने कहा कि हम गंगा जमुनी तहजीब में पले बढ़े हैं. मौजूदा हालात के सामने हमें घुटने नहीं टेकने चाहिए.

शबाना ने कहा कि हम गंगा जमुनी तहजीब में पले बढ़े हैं. मौजूदा हालात के सामने हमें घुटने नहीं टेकने चाहिए.

अभिनेत्री ने कहा कि देश के हालात कुछ ऐसे ही हैं, माहौल कुछ इस तरह का बनाया जा रहा है कि अलोचना स्वीकार नहीं की जाएगी, लेकिन इससे हमें डरना नहीं है.

    अपने बेबाक अंदाज के लिए मशहूर अभिनेत्री शबाना आजमी ने अब मोदी सरकार को घेरा है. शबाना ने इंदौर में एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि अब माहौल कुछ इस तरह का बनाया जा रहा है कि सरकार की आलोचना करने वाले लोगों को राष्ट्रविरोधी कह दिया जाता है. उन्होंने कहा कि हमारे देश के भले के लिए जरूरी है कि हम यहां की बुराइयां भी बताएं, यदि हम बुराइयां नहीं बताएंगे तो हालात में सुधार नहीं ला सकेंगे.

    हमें सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है
    शबाना ने कहा कि देश का वातावरण ऐसा हो गया है कि यदि आप सरकार की आलोचना करते हें तो आप को उसी समय राष्ट्रविरोधी घोषित कर दिया जाएगा. हमें इस बात से लेकिन किसी भी हाल में डरना नहीं चाहिए. इसके लिए हमें किसी के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है. शबाना ने कहा कि हम गंगा जमुनी तहजीब में पले बढ़े हैं. मौजूदा हालात के सामने हमें घुटने नहीं टेकने चाहिए. उन्होंने कहा कि भारत एक खूबसूरत देश है लेकिन लोगों को इस तरह बांटने की कोशिश किसी भी हालत मे सही नहीं है.



    दंगों मे सबसे ज्यादा तकलीफ महिलाओं को
    उन्होंने कहा कि दंगों में सबसे ज्यादा तकलीफ यदि कोई झेलता है तो वह महिलाएं होती हैं. दंगों में महिला का घर बर्बाद होता है और उसके बच्चे बेघर होते हैं. साम्प्रदायिकता के इस माहौल में शिकार महिलाएं ही होती हैं. गौरतलब है कि शबाना एक सम्मान समारोह के दौरान इंदौर में सभा को संबोधित कर रही थीं.

    Tags: Central government, Indore news, Madhya pradesh news, Shabana azmi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर