बुजुर्ग मां की दर्द भरी दास्तां, 11 साल से बेटे की अस्थियां लेकर लगा रही अधिकारियों के चक्कर

ये महिला पिछले 11 साल से हाथ में बेटे की अस्थियां लिए आला अधिकारियों से न्याय की गुहार लगा रही है, लेकिन हर बार उसे सिर्फ निराशा हाथ लगती है.

News18 Madhya Pradesh
Updated: July 27, 2019, 4:39 PM IST
बुजुर्ग मां की दर्द भरी दास्तां, 11 साल से बेटे की अस्थियां लेकर लगा रही अधिकारियों के चक्कर
बेटे की अस्थियां लेकर भटक रही मां
News18 Madhya Pradesh
Updated: July 27, 2019, 4:39 PM IST
मध्य प्रदेश के शहडोल में एक मां न्याय की आस में अपने बेटे की अस्थियां लेकर अधिकारियों-कार्यालयों के चक्कर काट रही है. ये महिला पिछले 11 साल से हाथ में बेटे की अस्थियां लिए आला अधिकारियों से न्याय की गुहार लगा रही है, लेकिन हर बार उसे सिर्फ निराशा हाथ लगती है. बुजर्ग महिला का कहना है कि उनके बेटे की हत्या हुई थी, लेकिन अभी तक न्याय नहीं मिला. लेकिन वह हार मानने वाली नहीं है, जबतक न्याय नहीं मिलता वह बेटे की अस्थियां लेकर अधिकारियों से न्याय की गुहार लगाती रहेंगी.

जानकारी के मुताबिक बुजुर्ग महिला का नाम रतमी बेगा है. महिला ने जिला प्रशासन के अधिकारियों को बाताया है कि 2008 में पानी को लेकर एक आंदोलन चल रहा था. उनका बेटा मोहन उसी आंदोलन में शामिल होने गया था जिसके बाद वह घर नहीं लौटा. 20 मार्च 2008 को उसकी लाश एक सोड़ा फैक्ट्री के पास बने गड्ढे में मिली थी.

हत्या को हादसा दिखाने की कोशिश-

महिला का आरोप है कि उनके बटे की लाश पूरे दिन उस सोडा फैक्ट्री के पानी में पड़ी रही, किसी ने शव को बाहर नहीं निकाला. आरोप है कि ये जानबूझकर किया गया ताकि हत्या को हादसा दिखाया जा सके. वहीं, सूचना दिए बिना ही उनके बेटे का अंतिम संस्कार भी कर दिया गया. कुछ दिन बाद में उन्हें बेटे की अस्थियां दी गईं तो यकीन नहीं हुआ कि मोहन की मौत हादसे में हुई है.


Loading...



अब थक गई हूं-

बुजुर्ग मां ने बताया कि उन्होंने प्रण किया कि जबतक बेटे को न्याय नहीं मिलता, उसकी अस्थियां प्रवाहित नहीं करेंगी. पिछले 11 साल से वह दर-दर भटक रही हैं, ताकि बेटे की हत्या मामले की जांच कराई जाए. पिछले 11 साल से वह न्याय की गुहार लगाकर थक गई हैं. लेकिन, अब लगता है कि जिस गड्ढ में बेटे की लाश मिली थी, उसी में खुद भी जान दे दें.

आईजी शहडोल, एसपी सिंह ने कहा कि अगर महिला उनसे शिकायत करेगी तो वह इस मामले में जरूर जांच कराएंगे.


वहीं, इस मामले में आईजी शहडोल, एसपी सिंह ने कहा कि जब उन्हें पता चला कि महिला उनसे मिलना चाहती है. तो उन्होंने उसे दफ्तर में मिलने के लिए बुलाया, लेकिन वह नहीं आई. उन्होंने कहा कि बुजुर्ग महिला शिकायत लेकर उनके पास आती है तो वह इस मामले में जरूर जांच कराएंगे.

ये भी पढ़ें- नरोत्तम मिश्रा को मिली VVIP सुरक्षा पर कांग्रेस का तंज

ये भी पढ़ें- PM आवास योजना का लाभ तो मिला नहीं, बने बनाए घरौंदे भी टूट गए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 27, 2019, 1:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...