बांधवगढ़ में मृत मिला टाइगर, इस साल 100 से ज्‍यादा बाघों की मौत

मध्य प्रदेश के बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में तीन माह के बाघ शावक का शव मिला है. देश में इस साल 100 से ज्यादा बाघ मरे हैं.

मध्य प्रदेश के बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में तीन माह के बाघ शावक का शव मिला है. देश में इस साल 100 से ज्यादा बाघ मरे हैं.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में तीन माह के बाघ शावक का शव मिला है. देश में इस साल 100 से ज्यादा बाघ मरे हैं.

जानकारी के अनुसार, उमरिया जिले के तहत आने वाले बाधंवगढ़ टाइगर रिजर्व के कोर एरिया के कल्लवाह रेंज में शुक्रवार सुबह शावक का शव मिला.

मामले की जानकारी मिलने पर टाइगर रिजर्व और वन विभाग के आला अफसर मौके पर पहुंच गए. माना जा रहा है कि बाघ ने वर्चस्व की चुनौती मानते हुए बाघ शावक को मार डाला होगा.

बाघ ने शावक को मारने के बाद शव का आधा हिस्सा भी खा लिया. बाघ के अभी भी कोर एरिया में सक्रिय होने की सूचना वन विभाग को मिल रही है.

गौरतलब है कि इस साल भारत में 100 बाघ मारे गए हैं, जिसमें एक तिहाई मध्य प्रदेश के हैं. इस साल प्रदेश में 30 बाघों की मौत हुई हैं.

पर्यावरण मंत्री अनिल दवे ने पांच दिसंबर को संसद में दिए लिखित जवाब के अनुसार इस साल 106 बाघ मरे हैं. जनवरी 2015 से 42 शिकार के मामले भी शामिल हैं. 42 में से 12 मामले पिछले साल के और 30 इस साल के हैं.

देश में प्रत्‍येक चार साल के अंतराल पर बाघों की गिनती होती है. साल 2010 में देश में 1706 बाघ थे जिनकी संख्‍या चार साल बाद यानि 2014 में 2226 दर्ज की गई. इस तरह से बाघों की संख्‍या में 30 प्रतिशत का इजाफा दर्ज किया गया.