होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /मौसम में बदलाव: शाजापुर के जिला अस्पताल की OPD में बढ़े 300 से ज्यादा मरीज, इन बातों का रखें ध्यान

मौसम में बदलाव: शाजापुर के जिला अस्पताल की OPD में बढ़े 300 से ज्यादा मरीज, इन बातों का रखें ध्यान

Ujjain News: जिला अस्पताल के आरएमओ डॉ. सचिन नायक ने बताया कि ठंड का सबसे अधिक असर बच्चों पर होता है, उन्हें ठंड से बचान ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट- मोहित राठौर

(उज्जैन/शाजापुर). ठंड के मौसम में खांसी और जुकाम के रोगियों की संख्या बढ़ जाती है. ठंड का प्रकोप बढ़ने के बाद जिला अस्पताल में इन रोगों से ग्रस्त मरीज बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं, इनमें हर उम्र के लोग शामिल हैं. बदलते मौसम में बुखार, सर्दी, खांसी का प्रकोप बढ़ रहा है. निजी अस्पतालों में मरीजों की भरमार है तो सरकारी अस्पताल में भी बड़ी तादाद में- मरीज पहुंच रहे हैं. शनिवार को जिला अस्पताल की ओपीडी में 380 मरीज पहुंचे, इनमें से 300 से ज्यादा लोग बुखार से पीड़ित थे, इस समय सुबह व शाम को ठंड और दिन में तेज धूप के चलते सर्दी-खांसी की शिकायत होने लगी है, इससे ज्यादातर बच्चे और बुजुर्ग प्रभावित हो रहे हैं.

अस्पताल आने वाले 300 मरीजों में 200 बच्चे
जिला अस्पताल से प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक रोज 300 से अधिक मरीज आ रहे हैं, इनमें बच्चों की संख्या करीब 200 है. ठंड की शुरुआत होने के बाद सर्दी, खांसी, बुखार, उल्टी और दस्त के मरीज अधिक आ रहे हैं. जिला अस्पताल के आंकड़ों के अनुसार 21 नवंबर से शनिवार तक ओपीडी में 1986 मरीज पहुंचे हैं.

बच्चों पर ठंड का ज्यादा असर, विशेष ध्यान रखें
जिला अस्पताल के आरएमओ डॉ. सचिन नायक ने बताया कि ठंड का सबसे अधिक असर बच्चों पर होता है, उन्हें ठंड से बचाने के लिए गर्म कपड़े पहनाएं, बाहर न घुमाएं, अगर पानी पिला रहे हैं तो उसे गुनगुना अवश्य कर लें, तभी पिलाएं, ढाई वर्ष से ऊपर उम्र के बच्चों को काढ़ा पिलाएं, अगर उल्टी, दस्त शुरू हो तो तत्काल चिकित्सक के पास ले जाएं, इन बातों को ध्यान में रखकर उन्हें रोग से बचा सकते हैं.

Tags: Government Hospital, Mp news, Patients, Ujjain news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें