मामूली वेतन वाली आंगनवाड़ी कार्यकर्ता निकली आलीशान घर की मालकिन, लोकायुक्त का छापा

लोकायुक्त की टीम ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है.
लोकायुक्त की टीम ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है.

ग्वालियर (Gwalior) लोकायुक्त टीम के सब इंस्पेक्टर कविंद्र सिंह चौहान का कहना है, महिला द्वारा अब तक अपने वेतन (salary) से महज 12 लाख 70 हजार रुपये कमाए हैं लेकिन, उसके पास 43 लाख 700 रुपये की प्रॉपर्टी मिली

  • Share this:
श्योपुर.ग्वालियर (Gwalior) की लोकायुक्त  टीम ने श्योपुर शहर की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के घर छापा (Raid) मारा. कार्रवाई के दौरान कार्यकर्ता के घर आय से 30 लाख रुपये ज्यादा की संपत्ति मिली है. टीम ने आरोपी महिला के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है.अभी कार्रवाई जारी है.

मामला शहर के आईडीबीआई बैंक के पीछे वाली गली का है.यहां ग्वालियर की लोकायुक्त टीम ने सुबह करीब 06 बजे शहर के 0.2 आंगनवाड़ी केंद्र पर पदस्थ कार्यकर्ता ईवा चौहान के घर छापा मारा. टीम ने मौके पर देखा है कि, बेहद कम वेतन पर नौकरी करने वाली कार्यकर्ता का शहर में मुख्य जगह पर दो मंजिला आलीशान घर है. इसके साथ लाखों रुपये की अन्य प्रॉपर्टी और सोने-चांदी के जेवरात भी टीम को मिले हैं. इस महिला आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के खिलाफ लोकायुक्त टीम ने केस दर्ज कर लिया है.

आय से अधिक संपत्ति
ग्वालियर लोकायुक्त टीम के सब इंस्पेक्टर कविंद्र सिंह चौहान का कहना है, महिला द्वारा अब तक अपने वेतन से महज 12 लाख 70 हजार रुपये कमाए हैं लेकिन, उसके पास 43 लाख 700 रुपये की प्रॉपर्टी मिली, जो आय से अधिक संपत्ति की श्रेणी में आ रही है. इसे लेकर महिला के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है और आगे की कार्रवाई की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज