श्योपुर विधानसभा सीट: जातीय समीकरण बिगाड़ सकती है बीजेपी-कांग्रेस का खेल

Madhya Pradesh Elections: इस बार दलित आंदोलन के बाद यहां बीजेपी और कांग्रेस दोनों का समीकरण यहां बिगड़ता हुआ दिखाई दे रहा है. बीजेपी और कांग्रेस दोनों में अंतर्कलह है

News18 Madhya Pradesh
Updated: December 7, 2018, 12:43 PM IST
श्योपुर विधानसभा सीट: जातीय समीकरण बिगाड़ सकती है बीजेपी-कांग्रेस का खेल
श्योपुर विधानसभा सीट
News18 Madhya Pradesh
Updated: December 7, 2018, 12:43 PM IST
मध्य प्रदेश की श्योपुर विधानसभा सीट पर फिलहाल बीजेपी का राज है. दुर्गालाल विधायक हैं, जो 2013 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के बृजराज सिंह चौहान को हराकर जीते थे. इस बार दुर्गालाल के सामने कांग्रेस के बाबू जंडेल हैं.

श्योपुर विधानसभा क्षेत्र में कुल 224511 मतदाता हैं. इनमें 117774 पुरुष मतदाता और 106736 महिला मतदाता हैं. मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव 2018 में कुल 11 प्रत्याशी चुनावी मैदान में है जिनमें 2 निर्दलीय हैं. बीजेपी से दुर्गालाल विधायक और कांग्रेस के बाबू जंडेल के अलावा बसपा से तुलसीनारायण मीना चुनाव लड़ रहे हैं.

बुधनी विधानसभा सीट: शिवराज सिंह चौहान के सामने इस बार हैं अरुण यादव

इस बार दलित आंदोलन के बाद यहां बीजेपी और कांग्रेस दोनों का समीकरण यहां बिगड़ता हुआ दिखाई दे रहा है. बीजेपी और कांग्रेस दोनों में अंतर्कलह है.

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव 2013 में श्योपुर सीट से बीजेपी (65211 वोट) ने जीत दर्ज की थी. तब बीजेपी ने बसपा के प्रत्याशी रहे बाबू जंडेल को (48784 वोट) हराया था. वोट का अंतर 16427 था.
इस सीट पर अगर जातीय समीकरण की बात की जाए तो इस सीट पर रावत (मीणा), बैरवा (जाटव) मतदाता निर्णायक स्थिति में है. इसके अलावा मुस्लिम- आदिवासियों का भी काफी प्रभाव इस सीट पर है.

होशंगाबाद विधानसभा सीट: बीजेपी के बागी दिग्गज ने कांग्रेस की तरफ से संभाला है मोर्चा
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर