• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • MP Flood: श्योपुर में बारिश का कहर, पानी से घिरे 200 लोग, पूरे इलाके में बाढ़ के हालात

MP Flood: श्योपुर में बारिश का कहर, पानी से घिरे 200 लोग, पूरे इलाके में बाढ़ के हालात

एमपी के श्योपुर जिले में आफत की बारिश ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है. चारों ओर पानी ही पानी नजर आ रहा है.

एमपी के श्योपुर जिले में आफत की बारिश ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है. चारों ओर पानी ही पानी नजर आ रहा है.

Sheopur News: एमपी के श्योपुर में जिले में भारी बारिश कहर बरपा रही है. जिले में हर जगह पानी ही पानी नजर आ रहा है. बाढ़ के हालात हो गए हैं. आवदा डैम ओवरफ्लो होने की वजह से 200 लोग फंस गए. उनके मवेशी बह गए और अनाज खराब हो गया.

  • Share this:

श्योपुर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के श्योपुर जिले में आफत की बारिश जारी है. यहां आवदा डैम ओवरफ्लो होने से करीब 200 लोगों का जीवन दांव पर लग गया. लोगों ने जान जाने के डर के जैसे-तैसे समय बिताया. इनके घरों में पानी घुस गया, पूरा अनाज खराब हो गया और मवेशी बह गए. News 18 की टीम ने जब अधिकारियों को सूचना दी, तब जाकर बचाव और राहत कार्य शुरू किया गया.

बता दें, पिछले 5 दिनों से लगातार ओवरफ्लो हो रहे आवदा डैम की वजह से कस्बे की सैटलमेंट बस्ती चारों ओर से पानी से घिर गई. बस्ती के आगे बनी सड़क अब तक दीवार का काम कर रही थी, लेकिन, शनिवार को यह सड़क भी टूटकर बह गई. इसके बाद बस्ती के घरों में पानी भर गया. कई ग्रामीणों का राशन, मुर्गे-मुर्गी व अन्य सामान बह गया. प्रशासन की टीमों ने शनिवार की देर रात गांव में पहुंचकर ग्रामीणों को बस्ती से निकालने का काम शुरू किया.

प्रशासन ने नहीं उठाए जरूरी कदम
आवदा की सैटलमेंट कॉलोनी में 200 से ज्यादा ग्रामीण रहते हैं. यह कॉलोनी आवदा के ओवरफ्लो पॉइंट पर बसी है. इसलिए प्रशासन को इन रहवासियों को पहले ही शिफ्ट करना था. लेकिन, प्रशासन ने जरूरी कदम नहीं उठाए. इस वजह से जैसे ही जिले में झमाझम बारिश का दौर शुरू हुआ वैसे ही आवदा डैम ओवरफ्लो हो गया और इस बस्ती के लोग पानी के बीच फंस गए. ग्रामीणों के हालात जब बद्तर हुए तो उन्होंने प्रशासन से मदद की गुहार की, लेकिन किसी ने नहीं सुना.

दिमाग में बैठ गया था ये डर
घटना के 48 घंटे बाद जब News 18 की टीम मौके पर पहुंची तो गांववालों की हालत देखकर अधिकारियों को फोन पर जानकारी दी. इसके बाद उन्होंने ग्रामीणों की सुध ली. फिलहाल कुछ ग्रामीणों को गांव से सुरक्षित निकालकर आवदा के स्कूल में ठहरा दिया गया है. उनके खाने की व्यवस्था भी कर दी गई है. ग्रामीणों ने बताया कि वे यह सोचकर डरे हुए थे कि अगर रात को ओवरफ्लो हो रहे डैम का जलस्तर और भी ज्यादा बढ़ जाता, तो क्या होता.

बद्तर हो गए हालात
बता दें, ओवरफ्लो हो रहे आवदा डैम की वजह से इस इलाके की सड़क का आधे किलोमीटर से भी ज्यादा हिस्सा पानी में डूबा हुआ है. कई हिस्सों में हाल ही में बनाई गई सड़क को भारी नुकसान हुआ है. पुलिया के पास करीब 60 फीट से ज्यादा सड़क पूरी तरह से कट गई है. आवागमन पूरी तरह से बंद हो गया है. इसके अलावा बिजली के 20 से ज्यादा खंबे टूटकर क्षतिग्रस्त हो गए हैं. इसकी वजह से आवदा, बंधाली, सैटलमेंट कॉलोनी सहित दर्जन भर के करीब गांवों में पिछले 48 घंटों से अंधेरा पसरा हुआ है. इससे ग्रामीणों को और भी ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

इतनी बारिश का अंदाजा नहीं था- एसडीएम
कराहल के एसडीएम ब्रिजेंद्र यादव ने कहा कि बारिश की वजह से हालात बिगड़ गए हैं. अलग-अलग इलाकों में कई तरह की परेशानियां हो रही हैं. बारिश ने श्योपुर में रिकार्ड तोड़ दिया है. इस बात का अंदाजा नहीं था कि इतनी ज्यादा बारिश होगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज