Home /News /madhya-pradesh /

OMG: 1 साल के पोते को बचाने तेंदुए से भिड़ गए दादा-दादी, जानें कैसे बचाई बच्चे की जान

OMG: 1 साल के पोते को बचाने तेंदुए से भिड़ गए दादा-दादी, जानें कैसे बचाई बच्चे की जान

एमपी के श्योपुर जिले में दादा-दादी 1 साल के पोते को तेंदुए से बचाने के लिए जान पर खेल गए. (सांकेतिक फोटो)

एमपी के श्योपुर जिले में दादा-दादी 1 साल के पोते को तेंदुए से बचाने के लिए जान पर खेल गए. (सांकेतिक फोटो)

Madhya Pradesh News: मध्य प्रदेश के श्योपुर में दादा-दादी अपने एक साल के पोते को तेंदुए से बचाने के लिए जान पर खेल गए. तेंदुए ने बच्चे के पैरों को मुंह में दबा लिया था, लेकिन दादा-दादी की हिम्मत के आगे पस्त हो गया. वह बच्चे को ले नहीं जा सका.

अधिक पढ़ें ...

श्योपुर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के श्योपुर (Sheopur News) जिले से चौंकाने वाली खबर है. यहां 1 साल के पोते को तेंदुए से बचाने के लिए दादा-दादी भिड़ गए. तेंदुए ने हमले में दोनों को घायल कर दिया, लेकिन बच्चे को नहीं ले जा पाया. इस दौरान मची चीख-पुकार सुनकर और गांव वाले भी आ गए, जिससे तेंदुए को अपना शिकार छोड़कर भागना पड़ा.

जानकारी के मुताबिक, घटना मंगलवार रात कूनो नेशनल पार्क के पास बसे मोरावन के धुरा गांव की है. जयसिंह और उनकी पत्नी बसंती सो रहे थे. अचानक उन्होंने अपने 1 साल के पोते बॉबी के चीखने की आवाज सुन. ये सुनकर दोनों उठे तो उनके होश उड़ गए. उन्होंने देखा कि तेंदुआ बच्चे के पैर को करीब-करीब जबड़ों में दबा चुका है. उन्हें पहले तो कुछ नहीं सूझा, लेकिन बाद में हिम्मत करके दोनों तेंदुए की ओर लपके. जय सिंह ने तेंदुए को गले से पकड़ लिया और बसंती ने उसके मुंह पर मारकर बच्चे को निकाल लिया.

घायल हो गए दादा-दादी
खुद पर हुए अचानक हमले से तेंदुआ भी हड़बड़ा गया. उसने दोनों पर हमला कर दिया. इतने में आवाजें सुनकर परिवार के सदस्य और अन्य गांव वाले भी तुरंत आ गए. सभी ने मिलकर तेंदुए को जंगल की ओर भगा दिया. इसके बाद घायल बच्चे और दादा-दादी को अस्पताल पहुंचाया गया. गौरतलब है कि, कूनो नेशनल पार्क होने की वजह से अक्सर जंगली जानवर गांव में घुस आते हैं. इसकी वजह से यहां हर वक्त दहशत बनी रहती है.

ब्लैक-व्हाइट टाइगर की इस स्टोरी पर भी डालें नजर

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के इंदौर जू में इन दिनों मस्ती का माहौल है. हाल ही में यहां लाए गए ब्लैक और व्हाइट टाइगर शुक्रवार को अठखेलियां करते नजए आए. ब्लैक टाइगर नर और व्हाइट टाइगर मादा है. इन दोनों को एक ही बाड़े में रखा गया है. जू प्रबंधन इस बात पर पूरी नजर रख रहा है कि इन दोनों के बीच मस्ती के दौरान किसी तरह के संघर्ष की स्थिति न बने.

गौरतलब है कि एनीमल एक्सेंज प्रोग्राम के तहत ओडिशा के नंदन कानन जूलॉजिकल पार्क से ये टाइगर लाए गए हैं. इनके लिए जू प्रबंधन ने एक करोड़ 72 लाख रुपए खर्च कर एक हजार स्केवर फीट का स्पेशल बाड़ा बनवाया है. इसमें उनके लिए अलसाने के लिए मचान, तैरने के लिए तालाब और मिट्टी के टीले बनाए गए हैं.इस बाड़े में जंगल जैसा माहौल दिया गया है. यहां दो फाउंटेन भी हैं.

Tags: Mp news, Wildlife

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर