Home /News /madhya-pradesh /

स्कूल में वॉट्सएप चलाना पड़ा महंगा, दो शिक्षक निलंबित

स्कूल में वॉट्सएप चलाना पड़ा महंगा, दो शिक्षक निलंबित

कुछ समय पहले एक खबर आई थी जिसके अंतर्गत केन्द्र सरकार ये निर्णय लेने वाली थी जिससे आपके व्हाट्सऐप मैसेज ना सिर्फ पढ़े जा सकते थे, बल्कि 90 दिनों से पहले आप उसे डिलीट भी नहीं कर सकते थे. लेकिन अब व्हाट्सऐप यूजर्स के लिए खुशखबरी है.

कुछ समय पहले एक खबर आई थी जिसके अंतर्गत केन्द्र सरकार ये निर्णय लेने वाली थी जिससे आपके व्हाट्सऐप मैसेज ना सिर्फ पढ़े जा सकते थे, बल्कि 90 दिनों से पहले आप उसे डिलीट भी नहीं कर सकते थे. लेकिन अब व्हाट्सऐप यूजर्स के लिए खुशखबरी है.

स्कूल में बच्चों को पढ़ाने की जगह वॉट्सएप चलाने के मामले में कार्रवाई करते हुए दो शिक्षकों को निलंबित कर दिया गया है.

    शिवपुरी में जिला शिक्षा अधिकारी ने दो शिक्षकों को निलंबित कर दिया है. दोनों के खिलाफ स्कूल में बच्चों को पढ़ाने के बजाए वॉट्सएप चलाने की शिकायत मिली थी. जिले में इस तरह की यह पहली कार्रवाई है.

    जिला शिक्षा अधिकारी परमजीत सिंह गिल ने डीपीसी शिरोमणि दुबे के प्रस्ताव पर कार्रवाई करते हुए प्राथमिक विद्यालय नौहरीकला के शिक्षक महेश भार्गव और राजेंद्र दीक्षित को सस्पेंड कर दिया. निलंबन की अवधि में दोनों शिक्षक को जिला मुख्यालय में बीईओ कार्यालय में अटैच किया गया है.

    दरअसल, डीपीसी को ग्रामीणों ने दोनों शिक्षकों के बारे में शिकायत की थी. इस शिकायत में कहा गया था कि दोनों शिक्षक स्कूल के वक्त वॉट्सऐप पर बिजी रहते है. ग्रामीणों ने बकायदा दोनों के फोटो भी भेजे थे.

    डीपीसी ने शिकायत को सही पाए जाने के बाद निलंबन का प्रस्ताव जिला शिक्षा अधिकारी को भेजा था, जिन्होंने निलंबन की कार्रवाई पर अपनी मुहर लगा दी.

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर