Home /News /madhya-pradesh /

कलेक्टर और नेता के पैरों में गिरकर बिलख उठे किसान, बोले- साहब बस प्राण भर नहीं निकल रहे हमारे....

कलेक्टर और नेता के पैरों में गिरकर बिलख उठे किसान, बोले- साहब बस प्राण भर नहीं निकल रहे हमारे....

shivpuri farmer cried. ओलों और बारिश से हुए नुकसान का सर्वे करते कलेक्टर और पूर्व विधायक महेन्द्र सिंह

shivpuri farmer cried. ओलों और बारिश से हुए नुकसान का सर्वे करते कलेक्टर और पूर्व विधायक महेन्द्र सिंह

Crops ruined in shivpuri : पूरा शिवपुरी जिला भारी बारिश और ओलावृष्टि से आहत है. पूरे जिले में भारी बारिश और ओले पड़े हैं. इलाके के करीब 100 गांव में फसलें बर्बाद हो गयी हैं. यहां मसूर, सोयाबीन और सरसों किसानों ने बोयी थी लेकिन बारिश और ओलों ने सब बर्बाद कर दिया. अधिकारी और नेता सर्वे करने निकले तो किसानों का दर्द फूट पड़ा

अधिक पढ़ें ...

शिवपुरी. मध्य प्रदेश में हाल ही में हुई भारी बारिश और ओलावृष्टि (Heavy Rain and Hail) ने फसलों (Crops) को भारी नुकसान पहुंचाया है. बड़े इलाके में फसलें चौपट हो गयी हैं. कोरोना की दूसरी लहर में परेशान हो चुका किसान फिर बर्बादी के कगार पर है. शिवपुरी जिले में जब नेता और अफसर फसलों के नुकसान का सर्वे करने निकले तो किसान उनके पैरों पर गिर पड़े और सिर पटक पटक कर रोने लगे.

पूरा शिवपुरी जिला भारी बारिश और ओलावृष्टि से आहत है. पूरे जिले में भारी बारिश और ओले पड़े हैं. इलाके के करीब 100 गांव में फसलें बर्बाद हो गयी हैं. यहां मसूर, सोयाबीन और सरसों किसानों ने बोयी थी लेकिन बारिश और ओलों ने सब बर्बाद कर दिया.

फफक फफक कर रोए किसान
शिवपुरी जिले के कोलारस में हुई भारी ओलावृष्टि के बाद खराब हुई फसल का जायजा लेने अधिकारी और नेता निकले. कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह अन्य प्रशासनिक अधिकारियों और कोलारस के पूर्व विधायक महेंद्र यादव के साथ गांव गांव का दौरा करने आए. कलेक्टर और पूर्व विधायक को देख किसानों का दर्द फूट पड़ा. उनकी  आंखों से न सिर्फ आंसू टपकने लगे बल्कि किसान अधिकारियों और महेंद्र सिंह के पैरों में गिर कर दहाड़ मार-मार कर रोने भी लगे.

साहब बस प्राण भर नहीं निकल रहे…
ग्राम दीघोद में एक किसान जानकी लाल धाकड़ का कहना था कि साहब बस हमारे प्राण भर नहीं निकल रहे बाकी सब गत हो रही है. गांव गढ़ में बटरू लाल जाटव फसल चौपट होने से इतने सदमे में है कि वो कुछ बोल पाने की स्थिति में भी नहीं है. ओला पीड़ित गांवों में कमोबेश हर किसान का यही हाल है. अगस्त में बाढ़ ने बर्बाद किया और अब ओलों ने कहीं का नहीं छोड़ा.

किसानों को सरकार पर भरोसा नहीं
किसानों को ओलावृष्टि के बाद खराब हुई फसलों का मुआवजा मिलने पर संशय है. किसानों का अधिकारियों से कहना है कि बाढ़ के समय भी उनके नुकसान का जायजा लिया गया था. सर्वे हुआ था. लेकिन आज तक न तो मकान गिरने का मुआवजा मिला है और न ही फसल का. ऐसे में इस बार मुआवजा मिलेगा इसकी क्या गारंटी है.

Tags: Crop Damage, Heavy rain fall, Madhya pradesh latest news, Shivpuri News

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर