MP: Coronavirus को मात देने वाला युवक पड़ोसियों के व्यवहार से परेशान, मकान बिकाऊ है का लगाया बोर्ड

 दीपक का कहना है कि पड़ोसी उनके साथ बहुत दुर्यव्यवहार कर रहे हैं. (प्रतीकात्मक फोटो)
दीपक का कहना है कि पड़ोसी उनके साथ बहुत दुर्यव्यवहार कर रहे हैं. (प्रतीकात्मक फोटो)

शिवपुरी जिले (Shivpuri district) में दीपक शर्मा पहले COVID-19 पॉजिटिव मरीज थे. उन्‍होंने Coronavirus को तो मात दे दी, लेकिन पड़ोसियों के व्‍यवहार से वह बेहद दुखी हैं.

  • Share this:
शिवपुरी. मध्य प्रदेश के शिवपुरी (Shivpuri) जिले में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. जिले में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) का पहला मरीज दीपक शर्मा अपना मकान बेचने को मजबूर हो गए हैं. उन्‍होंने अपने घर पर बोर्ड टांग दिया है, जिस पर लिखा है- यह मकान बिकाऊ है. दीपक का अपने पड़ोसियों एवं नजदीकियों के बुरे बर्ताव के चलते मनोबल टूट गया है. उनका कहना है कि अब इसके अलावा उसके पास कोई रास्ता नहीं बचा था.

जानकारी के मुताबिक, शिवपुरी जिले में दीपक शर्मा पहले कोरोना पॉजिटिव मरीज थे. उन्‍होंने जानलेवा कोरोना को तो मात दे दी, पर अपने पड़ोसियों और नजदीकियों के बुरे बर्ताव से उनका मनोबल टूट गया है. हालांकि, दीपक पूरी तरह स्वस्थ होकर घर पहुंचे थे, लेकिन उनकी कॉलोनी वाले एवं अन्य लोगों के दुर्व्यहार के चलते अब वह और उनका परिवार अपना घर बेचकर दूसरे शहर में जाना चाहते हैं.

पड़ोसियों पर दुर्व्‍यवहार का आरोप
दीपक ने घर के बाहर मकान बिकाऊ है का बोर्ड भी लगा दिया है. दीपक का कहना है कि पड़ोसी उनके साथ बहुत दुर्यव्यवहार कर रहे हैं. उन्‍होंने बताया, 'हमारे दूध वाले से कह दिया कि इन्हें दूध मत देना. लोगों से बोलते हैं कि इनकी मां जहां से निकलती हैं वहां से मत निकलना, वरना कोरोना पकड़ लेगा.' उनका कहना है कि कुछ लोग इतना परेशान कर रहे हैं कि उनका मनोबल गिर गया है. दीपक ने बताया कि जरूरत के वक्त पड़ोसी ही काम आते हैं, लेकिन जब पड़ोसी ऐसा व्यवहार करेंगे तो यहां कैसे रहेंगे.
भोपाल में अब तक 3 की मौत


बता दें कि मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. अब तक इसके 573 मामले सामने आ चुके हैं. प्रदेश में 44 लोगों की इस कारण जान भी जा चुकी है. मिनी मुंबई के नाम से देश में मशहूर इंदौर शहर में 306 पॉजिटिव केस मिले, जिनमें से अब तक 32 की मौत हो चुकी है. जबकि 39 मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं. जधानी भोपाल में अब तक 140 लोग कोरोना से संक्रमित मिले हैं. इनमें से 3 की मौत हो गई. वहीं, तीन मरीज स्वस्थ होकर अपने घर वापस लौट चुके हैं. इसके अलावा मुरैना में 14 पॉजिटिव केस सामने आए हैं. उज्जैन में 18 मरीजों में पांच मरीजों की मौत हो गई. वहीं 3 पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं. जबलपुर में 11 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से पांच मरीज स्वस्थ हो चुके हैं.

ये भी पढ़ें- 

भोजपुर में आगलगी की घटना में 40 घर राख, सिलेंडर के धमाकों से सहमा इलाका

Lockdown में पत्नी ने चार बच्चों को दिया जन्म, सउदी से नहीं आ पाया पति
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज