अपना शहर चुनें

States

शिवराज सरकार का बड़ा फैसला: कृषि मंडियों में खुलेंगे अस्पताल, किसानों का होगा मुफ्त इलाज

मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार ने अनाज मंडियों में किसान क्लीनिक खोलने का ऐलान किया है.
मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार ने अनाज मंडियों में किसान क्लीनिक खोलने का ऐलान किया है.

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की शिवराज सरकार किसानों (Farmers) को एक नई सौगात देने जा रही है. मंडियों में जल्द ही किसान क्लीनिक (Kisan Clinic) खोलने की योजना है. इस किसान क्लीनिक में अनाज बेचने आने वाले किसानों का मुफ्त में इलाज होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2021, 5:41 PM IST
  • Share this:
भोपाल. किसानों आंदोलन के बीच मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ( CM shivraj singh chauhan) ने किसानों (Farmers) को एक बड़ी सौगात देने का प्लान तैयार किया है. इसके तहत मंडियों में शिवराज सरकार जल्द ही किसान क्लीनिक (Farmer clinic) खोलेगी. किसान क्लीनिक से अनाज बेचने वाले किसानों को फायदा मिलेगा. उन्हें सरकार मुफ्त में इलाज देगी. मुफ्त में दवा भी दी जाएगी.

कृषि मंत्री कमल पटेल ने सबसे पहले ए क्लास मंडियों में किसान क्लीनिक खोलने का ऐलान किया है. प्रदेश में करीब 40 ए क्लास मंडिया हैं जो बड़े शहरों में हैं. यहां पर जल्दी किसान क्लीनिक को खोला जाएगा. इसके लिए सरकार ने प्लान भी तैयार कर लिया है. यहां डॉक्टर के लिए संस्थाओं से टेंडर बुलाए जाएंगे. इसके बाद पूरी व्यवस्था की जाएगी. किसानों का इलाज पूरी तरह मुफ्त में होगा. शिवराज सिंह सरकार इसके जरिये चाहती है कि सभी किसानों को दवा भी यहां पूरी तरह मुफ्त मिले. ए क्लास की मंडी के बाद इस पायलट प्रोजेक्ट को प्रदेश की 300 से ज्यादा मंडियों में लागू किया जाएगा.

मध्य प्रदेश में बनेंगी स्मार्ट मंडी



कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि मध्य प्रदेश की मंडियों को स्मार्ट बनाया जाएगा. मंडियों में सभी तरीके की सुविधाएं दी जाएगी. प्रदेश में कोई भी मंडी बंद नहीं होगी. मंडी बंद होने की सिर्फ अफवाह फैलाई जा रही है. फसल बेंचने आये किसानों को सस्ती दरों पर मंडी में ही इलाज मिलेगा. न मंडी बंद होगी न एमएसपी बंद होगी. उन्होंने कहा कि आदर्श मंडी बनाने की शुरुआत पायलेट प्रोजेक्ट के तहत हरदा से होगी शुरू.
किसानों के स्वास्थ्य का भी रखा गया ध्यान

राज्य शासन के प्लान में स्वास्थ्य को लेकर भी सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी. मंडी में आए किसान की अचानक अगर तबियत खराब होती है, तो उसके लिए डॉक्टर की सुविधा भी रहेगी. सरकार किसान क्लीनिक का भी निर्माण करेगी. ताकि इमरजेंसी में प्राथमिक उपचार मिल सके. कृषि मंत्री कमल पटेल ने बताया कि, किसानों को उनकी जरूरत की सभी चीजें एक जगह मिल जाएं. इसलिए सरकार प्रदेश में किसान मॉल बनाने जा रही है. उन्होंने बताया कि इस मॉल में किसानों के लिए सभी तरह की सुविधाएं होंगी. किसानों के साथ जो बाजारों में लूट होती है वो बंद हो. कृषि मंत्री ने कहा कि प्रदेश की मंडियों में सारी सुविधाएं दी जाएंगी, ताकि हमारी मंडियां अपग्रेड हों और आदर्श मंडी के रूप में स्थापित किया जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज