लाइव टीवी

टीकमगढ़ लोकसभा सीट: इस बार दिलचस्प है यहां का मुकाबला
Tikamgarh News in Hindi

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: May 5, 2019, 9:09 PM IST
टीकमगढ़ लोकसभा सीट: इस बार दिलचस्प है यहां का मुकाबला
File Photos

बीजेपी के वीरेंद्र खटीक पर बाहरी प्रत्याशी होने का तमगा लगा है तो वहीं अपनों ने ही वीरेंद्र खटीक के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है

  • Share this:
मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ सीट पर मुकाबला काफी दिलचस्प है. बीजेपी के वीरेंद्र खटीक पर बाहरी प्रत्याशी होने का तमगा लगा है तो वहीं अपनों ने ही वीरेंद्र खटीक के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है. बीजेपी के आऱडी प्रजापति टिकट ना मिलने से नाराज हैं. आरडी प्रजापति ने समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है. जोकि बीजेपी के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकता है.

उधर कांग्रेस ने इस बार महिला उम्मीदवार किरण अहिरवार को टीकमगढ़ के महाभारत में उतारा है. यहां भी पैराशूट कैंडिडेट के उतरने से कई लोगों को नागवार गुजरा. कांग्रेस के कमलेश वर्मा को टिकट की आस थी. लेकिन टिकट कटने से कमलेश वर्मा खेमा नाराज है. किरण अहिरवार का कोई राजनीतिक बैकग्राउंड भी नहीं है. उन्होंने पहली बार राजनीति में कदम रखा है.

तस्वीरों में देखें- शिवराज-साधना की सालगिरह पर बधाई देने पहुंचीं साध्वी प्रज्ञा



जातिगत समीकरण



सामान्य-22.8प्रतिशत
ओबीसी-28.9प्रतिशत
एस-एसटी-31.4प्रतिशत
अल्पसंख्यक-8.6प्रतिशत
अन्य मतदाता-8.3प्रतिशत

राजनैतिक स्थिति
वोटिंग प्रतिशत-50.13प्रतिशत
वीरेंद्र कुमार का वोट प्रतिशत 55.93प्रतिशत

टीकमगढ़-वोटर्स की संख्या
कुल वोटर-1598623
पुरूष मतदाता-868110
महिला मतदाता-764822
अन्य मतदाता-30

वीरेंद्र खटीक अपनी सादगी के लिए जाने जाते है. सांसद बनने के बाद भी हमेशा स्कूटर पर ही चलना उनकी पहचान है. जनता के बीच हमेशा चौपाल लगाकर समस्याएं सुनना उनकी कदर पहचान बन गया है. लोग उन्हें चौपाल वाले बाबा के नाम से भी पुकारते है. लेकिन इस बार कड़ी चुनौती भी है. कम समय में ज्यादा से ज्यादा जनसंपर्क करना भी कड़ी चुनौती है तो वहीं जनता से किए गए वादों को पूरा ना कर पाने से भी लोग नाराज है. सांसद ने पिछली बार जो वादे किए थे उन वादों को भी पूरा नहीं किया है. ऐसे में नाराजगी दूर करना भाजपा के लिए मुश्किल है.

चुनाव के मुद्दे
क्षेत्र में बेरोजगारी
रोजगार के लिए पलायन
गांवों का खाली होना
वोटिंग प्रतिशत में भी पलायन बड़ा मुद्दा
क्षेत्र में सूखा बड़ी समस्या
नलकूप के लिए कोई व्यवस्था ही नहीं
मेडिकल कॉलेज नहीं

टीकमगढ़ सीट पर सियासी मुकाबला बेहद कड़ा है. टीकमगढ़ सीट पर भितरघातियों ने भाजपा-कांग्रेस के लिए मुश्किलें खड़ी की है. तो वहीं पलायन इस बार इस सीट के चुनाव को बेहद प्रभावित करेगा. इसके अलावा सांसद के काम का हिसाब किताब भी जनता के पास है. ऐसे में जनता इस सीट पर किसको मौका देगी यह देखना दिलचस्प होगा.

यह पढ़ें- लोकसभा चुनाव: मध्य प्रदेश की सात लोकसभा सीटों पर मतदान कल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टीकमगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 5, 2019, 9:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading