• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • Unlock टीकमगढ़ : पट खुलने से पहले ही रामराजा और कुंडेश्वर मंदिर में लगी कतार

Unlock टीकमगढ़ : पट खुलने से पहले ही रामराजा और कुंडेश्वर मंदिर में लगी कतार

अनलॉक ओरछा- रामराजा मंदिर में आज से दर्शन  शुरू

अनलॉक ओरछा- रामराजा मंदिर में आज से दर्शन शुरू

रामराजा मंदिर में दर्शन के लिए ऑनलाइन (online) व्यवस्था की गयी है. यहां राजभोग, बालभोग और चरणामृत के वितरण पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा.

  • Share this:
टीकमगढ़. टीकमगढ़ में मंदिरों (Temple) के पट खुल गए हैं. यहां अल सुबह से ही बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था. मंदिरों में सोशल डिस्टेंस (social distance) और गाइड लाइन (guide line) के मुताबिक दर्शन की व्यवस्था की गयी है. यहां के प्रसिद्ध कुंडेश्वर मंदिर और ओरछा (orchha) के रामराजा मंदिर के बाहर सुबह से भक्तों की भीड़ लग गयी. लॉक डाउन (lockdown) के ढाई माह बाद आज मंदिरों के पट खुले हैं. रामराजा मंदिर में दर्शन के लिए ऑनलाइन (online) व्यवस्था की गयी है. यहां राजभोग, बालभोग और चरणामृत के वितरण पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा.

अनलॉक के बाद ओरछा के रामराजा सरकार के दर्शन के लिए अब ऑनलाइन बुकिंग करनी होगी. यहां एक दिन में सिर्फ 200 भक्त ही रामराजा सरकार के दर्शन कर सकेंगे. यह देश का यह एक मात्र ऐसा मंदिर है जहा भगावन श्री राम को राजा के रूप में पूजा जाता है. लॉकडाउन के बाद पूरे 81 दिन बाद रामराजा सरकार अपने भक्तों को दर्शन देंगे.

सुबह से लगी कतार
देश में कोरोना संक्रमण को लेकर मंदिरों के पट बंद थे. लेकिन अब एक बार फिर धीरे धीरे सब कुछ सामान्य होता दिखाई दे रहा है. आज पट खुलने से पहले ही मंदिर के बाहर भक्तों का पहुंचना शुरू हो गया था. यहां प्रशासन और मंदिर समिति ने कोरोना की गाइड लाइन के मुताबिक दर्शन की व्यवस्था की है. रामराजा मंदिर कोरोना वारयरस के कारण 17 मार्च से भक्तों के लिए बंद था. पूजा पाठ के लिए सिर्फ मंदिर के पुजारी और स्टाफ के कर्मचारी को ही प्रवेश दिया जाता था. लेकिन अब ऐसे बार फिर पूरे 81 दिन बाद भगवान श्री रामराजा सरकार के दर्शन भक्त कर रहे हैं.

दर्शन के लिए ऑनलाइन बुकिंग
कोरोना वायरस का संक्रण ना फैले इसलिए जिला प्रशासन ने रामराजा सरकार के दर्शन के लिए नयी व्यवस्था की है. अब भक्तों को सीधे प्रवेश नहीं मिलेगा. उन्हें पहले ऑनलाइन बुकिंग करनी होगी. एक दिन में मात्र 200 भक्त ही दर्शन कर सकेंगे. सुबह 100 बजे श्रृद्धालुओं को दर्शन के लिए प्रवेश दिया जाएगा और शाम को भी 100 श्रृद्धालु दर्शन कर सकेंगे. दर्शन के समय सोशल डिस्टेंस का पालन किया जाएगा. यहा राजभोग, बालभोग और चरणामृत के वितरण पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा.

ये भी पढ़ें-

Corona Alert :भोपाल के इन इलाकों से सावधान,यहां तेजी से फैल रहा कोरोना संक्रमण

MP में धार्मिक स्थल आज से अनलॉक, भोपाल-जबलपुर रहेंगे लॉक

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज