सीएमएचओ ऑफिस की छत गिरी, टला बड़ा हादसा

उज्जैन जिला चिकित्सालय के सीएमएचओ ऑफिस के पहली मंजिल पर बने एक कमरे की छत भरभरा कर गिर गई.

Anand Nigam | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 24, 2019, 6:40 PM IST
Anand Nigam | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 24, 2019, 6:40 PM IST
उज्जैन जिला चिकित्सालय के सीएमएचओ ऑफिस में आज उस समय अफरा तफरी मच गई जब कार्यालय के पहली मंजिल पर बने एक कमरे की छत भरभरा कर गिर गई. गनीमत रही कि घटना के वक्त कमरे में कोई मौजूद नहीं था वरना बड़ा हादसा हो सकता था. बता दें कि जिस जगह की छत गिरी उसी के नीचे वाले कमरे में सीएमएचओ का केबिन है. उज्जैन सीएमएचओ कार्यालय की बिल्डिंग काफी पुरानी है और इसे यहां से हटाने की मांग पहले भी कई बार की जा चुकी है. बिल्डिंग की जर्जर हालत को देखते हुए प्रथम तल के कमरे में तो ताला ही लगा दिया गया था. आज जिस कमरे में छत ढही है उस कमरे में फाइल और फर्नीचर के अलावा कुछ नहीं था. इसी वजह से जान हानि नहीं हुई.

जर्जर बिल्डिंग की मरम्मत संभव नहीं
इस समय जिस बिल्डिंग में कार्यालय चल रहा है उसका मुआयना पीडब्ल्यूडी के अधिकारी कर चुके हैं. अधिकारियों ने साफ कर दिया है कि जर्जर बिल्डिंग की मरम्मत नहीं की जा सकती है. यानि यहां से कार्यालय को शिफ्ट करने के अलावा और कोई विकल्प नहीं है. बता दें कि छत गिरने के हादसे के बाद आनन-फानन में सीएमएचओ के केबिन को अन्य भवन में शिफ्ट कर दिया गया है.

घटना के संदर्भ में सीएमएचओ रजनी डाबर ने कहा कि बिल्डिंग का निरीक्षण किया जा चुका है. यह जर्जर हालत में है. इस बिल्डिंग को ठीक नहीं कराया जा सकता है. पीडबल्यूडी के कार्यपालन यंत्री ने यह बात लिखित में बता दी है. उन्होंने कहा कि ऐसे में अब कार्यालय को स्थायी रूप से शिफ्ट कर दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें - CM ने कहा बच्चों को मोबाइल गेम की लत से बचाएं माता-पिता

ये भी पढ़ें - ई-राशन कार्ड से गरीबों को किसी भी इलाके से मिल सकेगा राशन
First published: June 24, 2019, 5:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...