उज्जैन में बीजेपी नेताओं से विवाद के बाद CSP का ट्रांसफर, CM के दौरे के 48 घंटे के भीतर निकला ऑर्डर

उज्जैन में बीजेपी नेता और पुलिस में विवाद हो गया था.
उज्जैन में बीजेपी नेता और पुलिस में विवाद हो गया था.

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के उज्जैन (Ujjain) में 2 दिन पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(CM Shivraj Singh Chauhan) के आगमन पर हेलीपैड पर स्वागत के लिए अंदर जाने को लेकर विवाद हो गया था.

  • Share this:
उज्जैन. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के उज्जैन (Ujjain) में 2 दिन पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(CM Shivraj Singh Chauhan)  के आगमन पर हेलीपैड पर स्वागत के लिए अंदर जाने को लेकर विवाद हो गया था. इस दौरान सीएसपी रितु कैवरे और बीजेपी के आला नेता के बीच कहासुनी हो गई थी, जिसको लेकर बीजेपी के नेताओं ने सीएसपी का ट्रांसफर कराने तक की धमकी दे डाली थी. अभी 48 घंटे भी नहीं बीते थे की सीएसपी रितु का ट्रांसफर ग्वालियर कर दिया गया. वहीं विवाद के पूरे घटनाक्रम का वीडियो भी आज सामने आया है.

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के किसानों के खाते में बीमा राशि ट्रांसफर करने के कार्यक्रम को लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान 18 सितंबर को उज्जैन पंहुचे थे. उनके स्वागत के लिए प्रशासन ने स्थानीय नेताओं की एक लिस्ट तैयार की थी, लेकिन बीजेपी के पूर्व जिला अध्यक्ष व पूर्व उज्जैन विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष जगदीश अग्रवाल के साथ बीजेपी का एक पूर्व पार्षद ओम अग्रवाल हेलीपैड पर अंदर जाने की कोशिश कर रहा था. इस बात को लेकर जब पुलिसकर्मियों ने उसे रोकना चाहा तो पूर्व पार्षद  पुलिस वालों से भीड़ गया.





हाथापाई की नौबत
टीआई पार्षद दोनों में आपस में हाथापाई की नौबत तक आ गई थी. मामले को शांत कराने पहुंची सीएसपी रितु केवरे  ने जब दोनों पक्षों को समझा कर अलग करना चाहा तो बीजेपी के नेता रितु केवरे से उलझ गए और सीएसपी को धमकी देने लगे. मामला इतना बढ़ गया कि बीजेपी के आला नेता उन्हें ट्रांसफर कराने की लगातार धमकी देते रहे. इस बीच एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह ने मोर्चा संभाला और दोनों पक्षों को अलग किया, जिसके बाद घटना को अभी 48 घंटे भी नहीं बीते थे कि 19 सितंबर की शाम सीएसपी रितू केवरे का ट्रांसफर ग्वालियर कर दिया गया. पूरे घटनाक्रम के बाद आज 18 तारीख को हुए विवाद का वीडियो सामने आ गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज