अपना शहर चुनें

States

कोरोना वैक्सीनेशन पर उज्जैन के मुस्लिम धर्मगुरु बोले- फतवा जारी होने तक करेंगे इंतजार

उज्जैन में धर्म गुरू ने विवादित बयान दिया है.
उज्जैन में धर्म गुरू ने विवादित बयान दिया है.

नायब काजी मोहम्मद अली ने बताया कि कोरोना वैक्सीन सभी के लिए है, लेकिन जब तक फतवा जारी नहीं होगा, तब तक वह वैक्सीन नहीं लगवाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2021, 5:10 PM IST
  • Share this:
उज्जैन. जिले में ण्‍क मुस्लिम धर्मगुरु का चौंकाने वाला बयान सामने आया है. सुन्नी समाज के धर्मगुरु नायब काजी का कहना है कि जब तक फतवा जारी नहीं होता, तब तक वैक्सीन नहीं लगवाएंगे. उनका कहना है वह सुन्नी उलेमाई कलाम और उनकी डॉक्टरों की टीम के आदेश का इंतजार कर रहे हैं. नायब काजी मोहम्मद अली ने कहा कि वैक्सीन सभी के लिए है, लेकिन जब तक फतवा जारी नहीं होगा, तब तक वैक्सीन नहीं लगवाएंगे. उन्होंने कहा कि जब भी फतवा जारी होगा, मस्जिदों से ऐलान करवाकर वैक्सीन लगवाई जाएगी. उनका दावा है कि वैक्सीन को लेकर सभी की एक ही राय नजर आ रही है. धर्मगुरु के मुताबिक यह इस्लाम का मामला है, इसलिए फतवे का इंतजार है.

नायब काजी ने कहा कि इस मुद्दे पर मीटिंग की गई है. मेडिकल लाइन के हमारे मुस्लिम डॉक्टर मशवरा कर रहे हैं. उम्मीद यही की जा रही है कि उनकी ओर से सकारात्मकता का फतवा आएगा. जब कोई भी बिमारी का हल न हो तो ऐसी हालत में शरीयत में गुंजाइश होती है.





गौरतलब है कि वैक्सीनेशन के 24 घंटे होने से पहले तीन स्टाफ नर्सों रानी, महिमा और सुमन बहरिया को तबीयत खराब होने की शिकायत के बाद उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया. नर्सों की खबर लगते ही डॉक्टर और जिले के टीकाकरण अधिकारी पहुंचे और तीनों का चेकअप किया. जानकारी के मुताबिक, डॉक्टरों ने नर्सों को घर पर आराम करने की सलाह दी है.
एक नर्स की हालत ज्यादा खराब
इन तीनो में रानी की हालत ज्यादा खराब है. उन्‍हें बुखार के अलावा सांस लेने में भी काफी दिक्कत हो रही है. बैतूल की रहने वाली रानी को टीका लगा था. उसके बाद आधे घंटे के ऑब्जर्वेशन पीरियड में कुछ नहीं हुआ तो वह ड्यूटी पर चली गईं. उन्‍होंने बताया कि दोपहर करीब 2 बजे बाद उनका जी घबराना शुरू हुआ और शाम होते होते सांस लेने में तकलीफ होने लगी. वहीं, महिमा ने भी बताया कि उसे लूज मोशन के साथ-साथ बुखार भी आ रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज