इस गांव में पहली बार घोड़ी पर सवार हुआ दूल्हा, मामा-भांजे की निकली बारात

एसपी सचिन अतुलकर ने तीन थानों के करीब 50 पुलिस वालों को गांव में तैनात कर दिया.पुलिस बल बंदूकों, आंसू गैस के गोले और सुरक्षा इंतज़ामों के साथ गांव पहुंचा

Anand Nigam | News18 Madhya Pradesh
Updated: February 20, 2019, 9:06 PM IST
Anand Nigam | News18 Madhya Pradesh
Updated: February 20, 2019, 9:06 PM IST
उज्जैन ज़िले के रुदा हेड़ा गांव में पहली बार दूल्हा घोड़ी चढ़ा और पुलिस वाले बाराती बने. बारात भी एक दूल्हे की नहीं, बल्कि दो दूल्हों की बारात एक साथ और वो भी मामा-भांजे की. ये बारात गांव के एक sc परिवार की थीं. ठाकुरों के आतंक के कारण समाज के लोग ना तो बारात निकाल पाते थे और ना ही दूल्हे को घोड़ी पर बैठा पाते थे. लेकिन इस बार समाज ने पुलिस से शिकायत कर दी.

उज्जैन के रुदा हेड़ा गांव में सोंधिया राजपूतों का दबदबा है. गांव का कोई भी SC वर्ग का दूल्हा घोड़ी पर चढ़कर बारात नहीं निकाल सकता. हमेशा की तरह इस बार भी सोंधिया राजपूतों ने धमकी दी थी कि वो बारात नहीं निकलने देंगे.

ये भी पढ़ें-PHOTOS : प्रियदर्शिनी राजे सिंधिया का टूर, सुबह वॉक और शाम को चाट का ज़ायका

गांव में रहने वाले देवीलाल के भाई की शादी थी. परिवार ने बारात निकालने की ठानी, लेकिन दबंग ठाकुरों का डर था. इसलिए देवीलाल ने एसपी उज्जैन- सचिन अतुलकर से इसकी शिकायत कर दी. देवीलाल ने इच्छा जा़हिर की कि, वो चाहते हैं कि उनका भाई घोड़ी पर बैठकर बारात निकाले. एसपी राजी हो गए और उन्होंने बारात को सुरक्षा देने की गारंटी दी.

एसपी सचिन अतुलकर ने तीन थानों के करीब 50 पुलिस वालों को गांव में तैनात कर दिया.पुलिस बल बंदूकों, आंसू गैस के गोले और सुरक्षा इंतज़ामों के साथ गांव पहुंचा. पुलिस वालों ने ठाकुर परिवारों को समझाया कि अगर बारात निकालते वक्त तुम्हारी तरफ से कोई हरकत की गयी तो बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

ये भी पढ़ें - VIDEO : सीएम कमलनाथ के साथ राउंड टेबल पर बैठे उद्योगपति, सरकार बदलेगी निवेश नीति

बस फिर क्या था. मामा-भांजे दोनों की शादी थी. दोनों दूल्हे घोड़ी चढ़े. बैंड-बाजा बजा और खूब धूमधाम से बारात निकली.इसमें परिवार की महिलाएं भी शामिल हुईं. परिवार के सदस्यों ने बेफिक्र होकर गांव में बारात निकाली और ठुमके लगाए.
First published: February 20, 2019, 12:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...