क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में निकला सांप, साढ़े चार साल के बच्चे ने दुम से पकड़कर लटकाया

बच्चा साढ़े तीन साल का था तब से सांप पकड़ रहा है.

Ujjain. नागदा में इस बच्चे को स्नैक प्रिंस के नाम से जाना जाने लगा है. वो अब तक सैंकड़ों सांप पकड़ चुका है.

  • Share this:
उज्जैन. नागदा में क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक के दौरान दफ्तर में एक घोड़ा पछाड़ सांप (Snake) निकल आया. मीटिंग के लिए आए अफसरों और स्टाफ में हड़कंप मच गया. तभी एक साढ़े चार साल का बच्चा आया और सांप को मुंह से पकड़ कर लटाकर ले गया जैसे हाथ में कोई खिलौना हो.

नागदा में रहने वाला साढ़े चार साल का प्रिंस नाम का बच्चा अपने चाचा के साथ सांप का रेस्क्यू करने जाता है. बकायदा खुद सांप को पकड़ता भी है. इस बच्चे की बहादुरी के किस्से मोहल्ले से लेकर प्रशासनिक गलियारों तक में सुनाई देते हैं. क्षेत्र के एसडीएम आशुतोष गोस्वामी खुद बच्चे की बहादुरी देख चुके हैं. मामला चार पांच दिन पुराना है. जब आपदा प्रबंधन की बैठक शुरू होने से पहले दफ्तर में सांप निकल आया तो फौरन इस चाचा भतीजे की जोड़ी को बुला लिया गया. लंबे चौड़े सांप को तो मिनटों में प्रिंस ने ही काबू कर लिया. ये देखकर वंहां मौजूद सभी लोग अचंभित रह गए.

बच्चे में कुछ खास है
चंबल मार्ग रतलाम फाटक के नज़दीक रहने वाले कमल सिंह बैस लगभग 10 से 12 साल से सांपों का रेस्क्यू कर रहे हैं. वो बताते हैं कि एक साल पहले वो एक सांप को रेस्क्यू करने जा रहे थे. अपने साथ अपने भतीजे प्रिंस को भी ले गए. तब वह सिर्फ साढ़े तीन साल का ही था. जब वो सांप को पकड़ रहे थे उसी दौरान प्रिंस ने उस सांप को गर्दन से पकड़ लिया. तब कमल को लगा कि बच्चे में कुछ बात है वो भी इस ज़हरीले जीव का रेस्क्यू कर सकता है. प्रिंस उनके साथ अब तक कई सांप पकड़ चुका है जिसमें कई तो ज़हरीले और खतरनाक थे.

कमाल का प्रिंस
सर्किट हाउस में क्राइसेस मैनेजमेंट की मीटिंग होना थी. इसमें शामिल होने के लिए उच्च शिक्षा मंत्री, सांसद, समेत जिलेभर के बड़े नेता आने वाले थे. ऐसे में मीटिंग के कुछ समय पहले एसडीएम को सूचना मिली कि सर्किट हाउस परिसर में एक सांप घूम रहा है. सांप को रेस्क्यू करने के लिए कमल सिंह को बुलवाया गया. कमल सिंह अपने साथ भतीजे प्रिंस को भी ले आए. प्रिंस ने ही सांप को पकड़ा. जब प्रिंस सांप पकड़कर बाहर लाया तो पुलिसकर्मी, अधिकारी सहित वहां खड़े मीडयाकर्मी सब दंग रह गए.

निजी स्कूल ने ली पढ़ाई की जिम्मेदारी
बच्चे की बहादुरी को देख एक स्कूल संचालक ने उसकी पढ़ाई की जिम्मेदारी ली है. कमल सिंह ने बताया कि नागदा के एक निजी स्कूल में सांप होने की सूचना मिली. रेस्क्यू करते वक़्त प्रिंस भी साथ था. अपने बड़े पापा के साथ उसने सांप को दबोच लिया. बच्चे का यह कारनामा देख स्कूल संचालक कमलेश जायसवाल ने प्रिंस की पूरी पढ़ाई अपने विद्यालय में करने और पढ़ाई का पूरा खर्चा उठाने का वादा किया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.