VIDEO: बोल बम के जयकारे से गूंजा उज्जैन, आज निकलेगी महाकाल की सवारी
Ujjain News in Hindi

सावन की दूसरी सोमवारी को उज्जैन बोल बम के जयकारे से गूंज उठा. रात एक बजे से ही भस्म आरती में शामिल होने के भक्तों की भीड़ लगने लगी थी. आज शाम 4 बजे नगर में महाकाल की सवारी निकलेगी.

  • Share this:
सावन के दूसरे सोमवार को महाकाल की नगरी उज्जैन बोल बम के जयकारे से गूंज उठी. बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक उज्जैन के महाकाल मंदिर में भस्म आरती के लिए रात एक बजे से ही भक्तों की लाइन लगनी शुरू हो गई थी. बड़ी संख्या में श्रद्धालु भस्म आरती में शामिल होने के लिए महाकाल मंदिर पहुंचे थे. अल सुबह मंदिर में महाकाल का अभिषेक किया गया जिसमें दूध, दही, घी, शहद, इत्र, फूल आदि से भगवान को स्नान कराया गया. मान्यता है की सावन में सोमवार को शिव के दर्शन से जो मांगो वह फल मिलता है. देर रात से ही अलग-अलग शहरों से आए कावड़िये भी मंदिर पहुंचने लगे थे. कावड़ियों ने भी तड़के भगवान महाकाल को विभिन्न नदियों से लाया गया जल अर्पित किया.आज शाम 4 बजे महाकाल की सवारी भी शहर के भ्रमण पर निकलेगी. जिसमें, चन्द्रमौलेश्वर के रूप में भगवन शिव श्रद्धालुओं को दर्शन देंगे.

उज्जैन में दूसरी सोमवारी को महाकाल मंदिर में उमड़ी भक्तों की भीड़


दूसरी सोमवारी को मंदिर का नंदी हॉल, गणेश मंडपम और कार्तिकेय मंडपम पूरी तरह भक्तों से भरा हुआ था. महाकाल के अभिषेक की झलक पाने के लिए को भक्त आतुर दिखाई दिए. भस्म आरती के दौरान महाकाल का भांग से अद्भुत श्रृंगार किया गया. बाबा महाकाल को कंकू और फूलों से बाबा के श्रृंगार के बाद बाबा की आरती शुरू हुई. ढोल- नगाड़ों और मंदिर के घंटियों के बीच झांझ- मंजीरों के साथ बाबा महाकाल की आरती हुई, जिसमें बड़ी संख्या में भक्तों ने हिस्सा लिया. मान्यता है कि सावन के सोमवार को व्रत रखने वाले जो श्रद्धालु महाकाल मंदिर में पूजन करते हैं तो उनकी सभी मुरादें भगवन शिव पूरी करते हैं.



(रिपोर्ट- आनंद)
ये भी पढ़ें- दोस्तों ने 6 साल के बच्चे के शरीर में पंप से भर दी हवा, मौत

आदित्य ने बनाया ऐसा डिवाइस, जिससे नहीं लगेंगे बिजली के झटके
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज