Viral Video: महाकाल की नगरी में अधमरा होने पर भी नहीं रुके दरिंदे, रॉड-लाठियों से पीट-पीटकर की हत्या

महकाल की नगरी उज्जैन में अपराधियों के हौंसले काफी बुलंद हो गए हैं.

महकाल की नगरी उज्जैन में अपराधियों के हौंसले काफी बुलंद हो गए हैं.

Viral Video: महाकाल की नगरी से दरिंदगी भरा वीडियो सामने आया है. यहां कुछ अपराधियों ने युवक को बुरी तरह पीटा. उसके अधमरा होने के बाद भी उनके हाथ नहीं रुके. वे लाठियां बरसाते रहे.

  • Last Updated: May 30, 2021, 1:31 PM IST
  • Share this:

उज्जैन. कोरोना काल के बीच महाकाल की नगरी उज्जैन से एक चौंकाने वाला वीडियो सामने आया है. वीडियो में कुछ लोग एक व्यक्ति को मार-मारकर अधमरा कर देते हैं. उसके अधमरा होने के बाद भी उस पर जमकर लाठियां बरसाते हैं. युवक को इसी हालत में अस्पताल ले जाया जाता है, जहां उसकी मौत हो जाती है. वीडियो के आधार पर पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है.

जानकारी के मुताबिक, घटना जिले के लवकुशनगर की है. यहां पशु पालन के विवाद में एक युवक की बेरहमी से हत्या कर दी गई. कातिलों की बेरहमी का वीडियो सामने आने से सनसनी फैल गई. एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह ने बताया की संत बालीनाथ नगर में रहने वाले 26 वर्षीय गोविन्द पिता राजेश लकवाल पर शुक्रवार को लवकुश नगर में रहने वाले  लाला भाट, विशाल भाट, सागर भाट अहित अन्य साथियो ने हमला किया.

Youtube Video

वीडियो हो गया वायरल
इसके बाद घायल अवस्था में गोविन्द को शुक्रवार को जिला चिकत्सालय में, फिर जेके नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया. यहां भी हालत बिगड़ने के बाद गोविन्द को इंदौर रेफर कर दिया गया. लेकिन, शनिवार सुबह गोविन्द की मौत हो गई. लेकिन, उसके साथ हुई मारपीट और हत्या का वीडियो वायरल हो गया.  पुलिस वीडियो के आधार पर आरोपियों को तलाश रही है.

ये था पूरा मामला

गोविन्द के दोस्त सूरज ने बताया कि  संत बालीनाथनगर के गोविंद लकवाल और लवकुशनगर का आशु डागर मवेशी पालन करते हैं. इनके बीच मवेशी पालन की बात को लेकर विवाद भी होते रहते हैं. इस बीच शुक्रवार को शातिर आशु डागर ने झांसा देकर गोविन्द को अपने घर बुलाया. उसके घर पर साथी लाला भाट, विशाल भाट, सागर भाट,दीपक एवं भय्यू हथियार लेकर तैयार बैठे थे. गोविंद अपने दोस्त सूरज के साथ जैसे ही आशु के घर में दाखिल हुआ आरोपी दोनों पर टूट पड़े.



हाथ-पैर जोड़ता रहा मृतक

बताया जाता है कि, सूरज तो जान बचाकर भाग निकला, लेकिन गोविंद को आरोपियों ने घेर लिया. गोविंद को चारों तरफ से घेरकर रॉड, लट्‌ठ एवं चाकुओं से बेतहाशा मारा गया. गोविंद ने जान बचाने के लिए आरोपियों के हाथ-पैर भी जोड़े, लेकिन आरोपियों के सिर पर खून सवार होने से उनका दिल नहीं पसीजा. वह उसे बेरहमी से मारते रहे.

घर के बाहर फेंक कर चले गए

जैसे-तैसे आशु के घर से निकलकर गोविंद बाहर आकर सड़क पर गिरा तो आरोपी यहां भी पहुंच गए. आशु ने गोविंद को पकड़ लिया और सागर भाट  लट्‌ठ से उसे बुरी तरह पीटता रहा.  जब गोविंद की हालत मरने जैसी हो गई तो विशाल भाट मोटरसाइकिल ले आया. इस पर बैठाकर विशाल और भय्यू  गोविंद को उसके  घर के सामने फेंक गए.  घर के बाहर घायल पड़े  गोविंद की हालत देखकर  परिजन उसे  अस्पताल लेकर पहुंचे. बाद में इंदौर के MY अस्पताल ले गए, लेकिन गोविंद की जान नहीं बच सकी.  दिनदहाड़े गोविंद  की पिटाई का तमाशा लोग देखते रहे लेकिन किसी ने भी कातिलों को रोकने की कोशिश नहीं  की.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज