अपना शहर चुनें

States

सड़क मरम्मत के नाम पर हुआ 4 करोड़ का घोटाला, कलेक्टर ने दिए जांच के आदेश

उमरिया जिले के चंदिया नगर परिषद में सड़क और तालाब मरम्मत के नाम पर 4 करोड़ रुपए की बंदरबांट हो गई. कलेक्टर ने पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं.

  • Share this:
उमरिया जिले की चंदिया नगर परिषद में चार 4 महीने के लिए मुख्य नगरपालिका अधिकारी (सीएमओ) का प्रभार मिला और साहब ने  4 करोड़ का घोटाला कर दिया. न टेंडर हुआ और न कोटेशन लिया गया, बस कागजों में सड़क और तालाब की मरम्मती का बिल बनाकर भ्रष्टाचार को अंजाम दिया गया. आरोप यह है कि प्रभारी सीएमओ विनोद चतुर्वेदी ने जो हिम्मत दिखाई है वैसी हिम्मत शायद ही कोई अफसर दिखा पाए. वार्डों के पार्षद अपने इलाके की सड़क, नाली ठीक कराने की गुहार लगाते रहे और फाइल में काम पूरा होता दिखाकर खजाना खाली कर दिया गया. नगरपंचायत के दस्तावेजों में दर्ज जिन सड़कों की मरम्मत व तालाबों में ह्यूम पाइप लगाने के नाम पर बंदरबांट हुई है वे आज भी दुर्दशा पर आंसू बहा रहे हैं.

नगर पंचायत चंदिया के प्रभारी अकाउंटेंट राजेश गुप्ता खुद को कम, दूसरों को अधिक दोषी बता रहे हैं.


भ्रष्टाचार करने के दौरान भगवान को भी नहीं बख्शा 



प्रभारी सीएमओ ने पैसों की लालच में भगवान को भी नहीं बख्शा. जिस मंदिर में एक ईंट भी नहीं रखी गई वहां रंगरोगन और बिजली के नाम करोड़ों रुपए हजम हुए हैं. शहर के लोग स्तब्ध हैं और इस महाघोटाले की उच्चस्तरीय जांच की मांग कर रहे हैं. गौरतलब है कि कमलनाथ सरकार के कार्यकाल में जिले के इस पहले घोटाले को प्रभारी सीएमओ ने बड़े ही सुनियोजित तरीके से अंजाम दिया. चहेते अकाउंटेंट को प्रभार देकर मनचाहे चेक कटवाए गए, अब जिम्मेदारों से जबाब नहीं सूझ रहा. जिले के कलेक्टर स्वरोचिष सोमवंशी ने मामले को तूल पकड़ता देखकर एसडीएम एल. के.पांडेय को जांच के आदेश दे दिए. पांडेय का कहना है कि वे जल्द ही मामले की जांच रिपोर्ट कलेक्टर को सौंपेंगे.
एसडीएम एल. के.पांडेय का कहना है कि कलेक्टर ने उन्हें जांच की जिम्मेदारी सौंपी है


बहरहाल प्रभारी सीएमओ विनोद चतुर्वेदी नए सीएमओ तिवारी के आते ही चहेते ठेकेदारों को लेकर राजधानी में डेरा डाल रखा है तो नए साहब दिनेश तिवारी भी कुर्सी बचाने की फिराक में भोपाल पहुंच गए हैं.
ये भी पढ़ें- देखें कैसे 8 सेकेंड में ध्वस्त हुई दो साल में बनी बिल्डिंग
शर्मनाक:ग्वालियर कलेक्ट्रेट में अफसर देख रहे थे पोर्न फिल्म
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज