Home /News /madhya-pradesh /

CM कमलनाथ का ऐलान: विशेष पिछड़ी जनजाति में शामिल होगा कोल समाज

CM कमलनाथ का ऐलान: विशेष पिछड़ी जनजाति में शामिल होगा कोल समाज

कोल समाज को लेकर सीएम कमलनाथ का ऐलान

कोल समाज को लेकर सीएम कमलनाथ का ऐलान

पूरे आयोजन में विंध्य क्षेत्र में करारी हार से सबक लेते हुए कमलनाथ कोल समाज को साधते दिखे.

    मध्य प्रदेश के उमरिया में शबरी कोल महाकुंभ को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि कोल समाज को विशेष पिछड़ी जनजाति में शामिल किया जाएगा और कोल अभिकरण को कोल विकास प्राधिकरण में बदला जाएगा.

    किसानों के कर्जमाफी के बूते प्रदेश के सिंहासन में काबिज हुई कमलनाथ सरकार को लगता है कि नौजवानों के बूते दिल्ली की सत्ता हासिल की जा सकती है. शायद यही वजह है कि उमरिया में शबरी कोल महाकुंभ को संबोधित करते हुए वह किसानों पर कम और रोजगार पर ज्यादा जोर देते दिखे. शबरी महाकुंभ में सीएम कमलनाथ ने अपने पूरे भाषण को सिर्फ और सिर्फ नौजवान और रोजगार पर केंद्रित रखा.

    इस दौरान कमलनाथ ने पीएम मोदी को जुमलेबाज कहते हुए निशाना साधा. सीएम ने कहा कि पीएम मोदी ने नौजवानों को सालाना दो करोड़ रोजगार उपलब्ध कराने की बात कही थी. अपने सरकार की तारीफ करते हुए कमलनाथ ने कहा कि 60 दिन में वो कर दिखाया जो किसी ने नहीं किया.

    पूरे आयोजन में विंध्य क्षेत्र में करारी हार से सबक लेते हुए कमलनाथ ने कोल समाज को साधते दिखे और शबरी महाकुंभ के मंच से कोल समाज को विशेष पिछड़ी जनजाति में शामिल कराने का वादा करते हुए कोल अभिकरण को कोल विकास प्राधिकरण में बदलने का वादा किया.
    (बिजेन्द्र तिवारी की रिपोर्ट)

    ये भी पढ़ें-

    '17 साल की नौकरी, 10 जिले और 19 ट्रांसफर... क्योंकि मैं 'खान' हूं'

    IAS अफसरों का तबादला, 8 कलेक्टर और 2 नगर-निगम कमिश्नर हटाए

    सुर्खियों में छाई 'टीम कमलनाथ', एक साथ 28 को बनाया कैबिनेट मंत्री

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

    आपके शहर से (उमरिया)

    उमरिया
    उमरिया

    Tags: Kamal nath, Madhya pradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर