मध्य प्रदेश में कर्ज से परेशान एक और किसान ने की खुदकुशी

मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में कथित तौर पर कर्ज से परेशान 50 वर्षीय एक किसान ने अपने खेत में पेड़ पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली.

भाषा
Updated: December 13, 2017, 11:06 PM IST
मध्य प्रदेश में कर्ज से परेशान एक और किसान ने की खुदकुशी
Photo- News 18
भाषा
Updated: December 13, 2017, 11:06 PM IST
मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में कथित तौर पर कर्ज से परेशान 50 वर्षीय एक किसान ने अपने खेत में पेड़ पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली.

जिले के नवरोजाबाद पुलिस थाने के प्रभारी निरीक्षक आर बी सोनी ने बताया, जिला मुख्यालय से लगभग 25 किलोमीटर दूर भूंडी गांव में रहने वाले किसान गोकुल पाल (50) ने रात अपने खेत में पेड़ पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली.

किसान के बेटे नरेश पाल (25) ने बताया कि उसके पिता ने दो लोगों से निजी तौर पर 90,000 रुपये कर्ज ले रखा था, लेकिन धान के फसल खराब होने के कारण वह उसे चुका नहीं पा रहे थे. इसलिये तनावग्रस्त होकर उन्होंने यह आत्मघाती कदम उठा लिया.

उप जिला अधिकारी रिषि पंवार ने कहा, किसान की मौत का कारण फिलहाल बता पाना संभव नहीं है. पुलिस मामले की जांच कर रही हैं और जांच के बाद ही यह सामने आ सकेगा. पुलिस निरीक्षक ने बताया कि पुलिस मामला दर्ज कर विस्तृत जांच कर रही है.

मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने किसान द्वारा आत्महत्या करने पर भाजपा सरकार को जिम्मेदार ठहराया है.

उन्होंने कहा कि किसानों की मौत और उनकी बरबादी से बेखबर होकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कहीं नर्मदा यात्रा का एक साल पूरा होने का जश्न मना रहे हैं तो कहीं अपना सम्मान करवा रहे हैं. उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में किसानों के हालात बदतर हो गए हैं.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर