अपना शहर चुनें

States

उमरिया में सोना चांदी गैंग की दूसरी वारदात, पुलिस ने सतर्क रहने अपील की

दो वारदातों को अंजाम देने के बाद भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है सोना चांदी गैंग
दो वारदातों को अंजाम देने के बाद भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है सोना चांदी गैंग

उमरिया (Umaria) में इन दिनों सोना चांदी गैंग (Sona Chandi Gang) का खौफ है. इस गैंग के लोग ज़िले में 2 वारदातों को अंजाम दे चुके हैं. लेकिन इसके बावजूद पुलिस (Police) के हाथ अब तक कोई सुराग (Clue) नहीं लग पाया है. पुलिस इस मामले में लोगों से अलर्ट रहने की अपील कर रही है.

  • Share this:
उमरिया में बर्तन साफ करने वाले गैंग (Gang) ने महिलाओं (Women) को झांसे में लेकर उनके कीमती जेवरात (Jewellary) पार कर दिए. इस गैंग के सदस्य भोले भाले लोगों को अपनी बातों में फंसाकर पहले उनके बर्तन (Utensils) साफ करते हैं. इसी बीच उनका एक साथी महिलाओं के कीमती गहनों पर हाथ साफ कर देता है. इस गैंग ने थोड़े से समय में ऐसी 2 वारदातों को अंजाम दे दिया है. पुलिस (Police) अब तक इस मामले में कोई भी जानकारी नहीं जुटा सकी है.

ठगी गैंग के निशाने पर उमरिया
उमरिया जिला मुख्यालय के मोहनपुरी इलाके में रहने वाली सुमित्रा देवी दूसरी महिला है जिन्हें बर्तन चमकाने वाली गैंग ने बर्तन साफ करने के बहाने झांसे में लेकर लाखों के कीमती जेवरात साफ कर दिये. इसके पहले पाली सब डिवीजन में भी ऐसी ही घटना का होना साफ करता है कि सोना चमकाने वाली गैंग का ठिकाना इन दिनों उमरिया जिले में है. इस गैंग के निशाने पर वो भोले भाले लोग हैं जो सहज ही भरोसा करके ठगों के जाल में फंस जाते हैं. चमक के नाम पर चूना लगाने वाली 2-3 लोगों की गैंग में पहला आदमी लोगों को बातों में उलझाने का मास्टर होता है, तो दूसरा बर्तनों को चमकाने का माहिर जबकि तीसरा व्यक्ति हाथ की सफाई में चतुर जो कि मौका देखते ही जेवरात पार कर देता है. ठगों का अंदाज इतना शातिराना है कि लोग ठगों को माल लेकर विदा करने के 20 मिनट के बाद ही ये समझ पाते है कि उनके साथ क्या हो गया.

News - पुलिस ने लोगों से सतर्क रहने की अपील की है, हालांकि पुलिस के हाथ अब तक कोई सुराग नहीं लगा है
पुलिस ने लोगों से सतर्क रहने की अपील की है, हालांकि पुलिस के हाथ अब तक कोई सुराग नहीं लगा है

अब तक खाली हैं पुलिस के हाथ


तकरीबन 15 दिन के अंदर दो घटनाओं में लाखों के जेवरात साफ करने वाले ठगों की गैंग को लेकर अब तक पुलिस के हाथ अब तक कोई सुराग नहीं लगा है. पुलिस ठगों की तलाश का दावा जरूर कर रही है लेकिन एक के बाद 2 वारदातों के बावजूद ठगों की गैंग को लेकर पुलिस के हाथ खाली है. इस मामले में पुलिस केवल लोगों से सतर्क रहने की अपील कर पल्ला झाड़ रही है.

बहरहाल जिले में सोना चांदी चमकाने वाली गैंग की दो घटनाएं पुलिस की सक्रियता पर सवाल खड़े तो करती ही है पढ़े लिखे होने के बाद भी लोगों के ठगों के जाल में फंस जाने से लोगों की जागरूकता पर भी सवालिया निशान छोड़ती है. जरूरत है पुलिस की मुस्तैदी की जिससे और कोई परिवार ठगी का शिकार होने से बच सके.

ये भी पढें -
मध्य प्रदेश में अब पार्षद चुनेंगे महापौर और अध्यक्ष, राज्यपाल ने अध्यादेश को दी मंज़ूरी
पेंशन घोटाले पर कैलाश विजयवर्गीय के तीखे बोल, कमलनाथ सरकार पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज