लाइव टीवी

जीवाजी विश्वविद्यालय में कुलपति की नेम प्लेट पर कालिख पोती, सुरक्षा बढ़ाई गई

Sushil Koushik | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 19, 2020, 12:00 AM IST
जीवाजी विश्वविद्यालय में कुलपति की नेम प्लेट पर कालिख पोती, सुरक्षा बढ़ाई गई
जीवाजी युनिवर्सिटी में छात्रों का अनिश्चित कालीन धरना

जीवाजी विश्विविद्यालय (Jiwaji University) में शुक्रवार रात अराजक तत्वों ने कुलपति की नेम प्लेट पर कालिख पोत दी. तनाव को देखते हुए विश्वविद्यालय में सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

  • Share this:
ग्वालियर. मध्य प्रदेश के ग्वालियर (Gwalior) का जीवाजी विश्वविद्यालय इन दिनों विरोध-प्रदर्शन, हंगामे और विवादों के लिए सुर्खियों में हैं. बीती रात अराजक तत्वों ने कुलपति (Vice Chancellor) की नेम प्लेट पर कालिख पोत दी. दूसरी ओर महासचिव की रिहाई की मांग को लेकर एनएसयूआई कार्यकर्ताओं (NSUI Activists) ने अनिश्चितकालीन धरना शुरु कर दिया है. तनावपूर्ण हालात के मद्देनजर विश्वविद्यालय में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है.

कुलपति बंगले की नेम प्लेट पर कालिख पोती
जीवाजी विश्वविद्यालय की कुलपति संगीता शुक्ला के बंगले के बाहर लगी नेम प्लेट पर शुक्रवार देर रात अराजक तत्वों ने कालिख पोत दी. कालिख पोतने वाला मुंह पर नकाब बांधकर आया बाइक से आया था. उसने कालिख पोती और साथ आए उसके सहयोगी ने इस घटना का वीडियो बनाया. इस वीडियो को सुबह वायरल भी कर दिया.

कालिख पोतने की घटना का वीडियो वायरल

इस घटना का वीडियो एनएसयूआई कार्यकर्ताओं के वॉट्सएप ग्रुप पर डाला गया है, जिसके चलते संदेह की सुई एनएसयूआई कार्यकर्ताओं की ओर है हालांकि एनएसयूआई ने इस घटना में हाथ होने से इंकार कर दिया है. इस मामले की शनिवार शाम तक कुलपति या विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा पुलिस में शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है. विश्वविद्यालय थाना के टीआई राम नरेश यादव का कहना है कि अभी तक कालिख पोते जाने की लिखित जानकारी या शिकायत नहीं मिली है, अगर शिकायती पत्र मिलेगा तो आपराधिक मामला दर्ज किया जाएगा.

महासचिव की रिहाई के लिए NSUI ने मोर्चा खोला
NUSI के प्रदेश महासचिव सचिन द्विवेदी की गिरफ्तारी और विश्वविद्यालय में गड़बड़ियों का आरोप लगाते हुए एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने शनिवार को कुलपति संगीता शुक्ला के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. एनएसयूआई के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन के सामने अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया है. धरने पर बैठे कार्यकर्ताओं का कहना है कि जब तक उनकी मांगे नहीं मानी जाती, महासचिव सचिन द्विवेदी की रिहाई नहीं होती, विश्वविद्यालय के घोटाले और गड़बड़ियों पर कार्रवाई नहीं होती तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा.शुक्रवार को हुई थी NSUI नेता की गिरफ्तारी
एनएसयूआई के प्रदेश महासचिव सचिन द्विवेदी की गिरफ्तारी के बाद से ही कार्यकर्ताओं ने कुलपति के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था. दरअसल शुक्रवार को एनएसयूआई के प्रदेश महासचिव सचिन द्विवेदी अपने पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ विश्वविद्यालय में विरोध प्रदर्शन करने पहुंचे थे. इसी दौरान विश्वविद्यालय पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था. सचिन की गिरफ्तारी के बाद एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने विश्वविद्यालय थाना में हंगामा कर दिया था, जिसके बाद रात में पुलिस ने सचिन को एसडीएम कोर्ट में पेश किया था जहां से एसडीएम अनलि बनवारिया के आदेश के बाद सचिन को जेल भेज दिया गया था.

ये भी पढ़ें -
BJP सांसद प्रज्ञा ठाकुर को संदिग्ध लिफाफा भेजने के मामले में महाराष्ट्र का डॉक्टर गिरफ्तार
नाराज़ कांग्रेस MLA को मनाने पहुंचे मंत्री पीसी शर्मा और गोविंद सिंह, चाय पर की चर्चा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ग्वालियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 18, 2020, 10:53 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर