शिक्षक को 20.99 लाख का भुगतान ना करने पर शिक्षा विभाग की कुर्की

देश के बच्चों का सुंदर भविष्य का निमार्ण करने वाले शिक्षा विभाग में शुक्रवार को कुर्की की कार्यवाही हुई.संभवतः इससे पहले कहीं भी शिक्षा विभाग की कुर्की नहीं हुई होगी.लेकिन विदिशा सीजे कोर्ट के आदेश पर आज जिला शिक्षा विभाग में 3 घंटे तक समान कुर्की की गई.

Bharat Rajput | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 20, 2018, 11:36 PM IST
शिक्षक को 20.99 लाख का भुगतान ना करने पर शिक्षा विभाग की कुर्की
विदिशा के शिक्षा विभाग में कुर्की का दृश्य
Bharat Rajput | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 20, 2018, 11:36 PM IST
देश के बच्चों का सुंदर भविष्य का निमार्ण करने वाले शिक्षा विभाग में शुक्रवार को कुर्की की कार्यवाही हुई.संभवतः इससे पहले कहीं भी शिक्षा विभाग की कुर्की नहीं हुई होगी.लेकिन विदिशा सीजे कोर्ट के आदेश पर आज जिला शिक्षा विभाग में 3 घंटे तक सामान की कुर्की की गई. मामला शासकीय हॉयर सेकेंडरी रिटायर्ड प्रिंसिपल चिमनलाल माहेश्वरी के वेतन संबंधी प्रकरण 2012 से अदालत में लंबित था. अदालत ने शिक्षा विभाग अदेशशित किया था कि फरियादी को 20 लाख 99 हजार का भुगतान किया जाए.इसके बाद भी विभाग 2012 से भुगतान नहीं किया. जिस पर सीजे कोर्ट ने शिक्षा विभाग के पूरे समान की कुर्की कर ली.

फरियादी चिमनलाल माहेश्वरी के वकील एलएन दंडोतिया का कहना है कि कोर्ट के आदेश के बाद भी विभाग ने पैसा नहीं दिया तो कुर्की की गई है. पीड़ित ने कहा कि कोर्ट द्वारा आदेस पर इस सामान से शायद कुछ ज्यादा नहीं वसूल हो पाएगा. पैसे नहीं मिले तो बाकी विभाग की कुर्की करवाकर दम लूंगा.कुर्की होने से शिक्षा विभाग की अजीब स्थिति हो गई है.फर्नीचर से लेकर कम्प्यूटर तक ले जब्त किए जाने से तमाम काम ठप हो गया है. अधिकारियों की खुद समझ नहीं आ रहा कि वह अपना काम कैसे चलाएं और इस समस्या से कैसे निपटें.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...